REWA : होली खेलने के बहाने बुलाकर लाई थी सौतन, उतार दिया मौत के घाट


रीवा. महिला की पत्थर पटककर हत्या करने वाले मुख्य संदिग्धों तक पुलिस पहुंच चुकी है। पुलिस ने एक महिला को हिरासत में लिया है जिसने हत्याकांड से जुड़ी अहम जानकारियां पुलिस को दी है। एक अन्य संदिग्ध का नाम भी सामने आया है जिसकी तलाश की जा रही है। फिलहाल आरोपियों के संबंध में पुलिस ज्यादा जानकारी देने से कतरा रही है। पनवार थाने के धरी जंगल में महिला की हत्या हुई थी जिसका क्षतविक्षत हालत में पुलिस ने शव बरामद किया था। महिला की पहचान आरती विश्वकर्मा पति पंकज निवासी लोहगड़ा थाना बारा जिला चंदौली उ.प्र. के रूप में हुई थी। उक्त महिला की हत्या की जांच कर रही पुलिस ने मुख्य संदिग्धों को पकड़ा है। 

दरअसल घटना दिनांक को उसके पति की पहली बीवी संजू साहू निवासी लंगड़ी पनवार उसे अपने साथ मायके होली खेलने चलने के लिए बुलाकर लाई थी जिसके बाद से वह लापता हो गई थी। पहली पत्नी ने पति को चंदौली में ही उसके गुम जाने की जानकारी दी थी जिस पर गुमशुदगी की शिकायत बारा थाना में दर्ज कराई गई थी। पूछताछ में संदेही महिला ने अहम जानकारियां दी है। घटना दिनांक को वह महिला को डभौरा तक लेकर आई और डभौरा में उसका अपनी शौतन से विवाद हो गया। विवाद में वह महिला को धरी जंगल में लेकर आई जहां उसकी हत्या कर दी। इस हत्याकांड में एक अन्य व्यक्ति का नाम सामने आया है जिसकी तलाश की जा रही है। पुलिस जल्द ही इस हत्याकांड से पर्दा हटा सकती है।

प्रेम तिकोण बना हत्या की वजह
इस हत्याकांड की मुख्य वजह प्रेम तिकोण बना है। संदेही संजू साहू से उसकी शादी हुई थी लेकिन पांच माह पूर्व पंकज ने आरती विश्वकर्मा से प्रेम विवाह किया था और मंदिर में शादी कर ली।शादी करके वह उसको घर लेकर चला गया जहां शौतन से पत्नी का आए दिन झगड़ा होने लगा। इस बात को लेकर पति भी उसके साथ मारपीट करता था जिससे महिला अपनी शौतन से काफी नाराज थी और उसने इस खौफनाक घटना को अंजाम देने की योजना बनाई। होली खेलने के बहाने उसे रीवा लेकर आई जहां उसकी हत्या कर दी।
Powered by Blogger.