REWA : हनुमना, मऊगंज बघवार, गोविंदगढ़ सहित त्योथर, जवा नाके पर खनिज टीम ने किया निरीक्षण, अब बिना परमिट परिवहन किया तो दर्ज होगी FIR

रीवा. जिले में खनिज का अवैध परिवहन करते पकड़े गए तो जिम्मेदारों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराया जाएगा। शासन की गाइड लाइन पर जिले में 9 रेत जांच नाके बनाए गए हैं। अवैध खनिज उत्खनन और परिवहन रोकने के लिए स्थापित किए गए रेत खनिज जांच नाको का गुरुवार को माइनिंग कारपोरेशन के प्रभारी अधिकारी एसके दूबे और जिला खनिज अधिकारी रत्नेश दीक्षित ने संयुक्तरूप से निरीक्षण किया गया। इस दौरान मऊगंज क्षेत्र के ग्राम बहेरा डाबर में स्थापित जांच केन्द्र पर जांच के लिए पहुंचे। यहां पर दो दर्जन वाहनों की जांच गई।

अवैध परिवहन पकड़ाए तो दर्ज होगा प्रकरण

जिला खनिज अधिकारी ने कहा कि कोई भी वाहन बिना परमिट परिवहन किया गया तो संबंधित क्रशर प्लांट संचालक के खिलाफ भी एफआइआर दर्ज कराई जाएगी। इस दौरान टीम ने जांच केन्द्रों पर रखे रजिस्टर में गुजरने वाले प्रत्येक खनिज वाहनों के नंबर, समय और इटीपी की जानकारी दर्ज करने का निर्देश दिए। जिले में खनिज परिवहन की जांच के लिए अलग-अलग जगहों पर 9 केन्द्र बनाए गए हैं। गुरुवार को पिपराही, हनुमना, बहेरा डाबर आदि जगहों का निरीक्षण किया गया।

जिले में 9 रेज जांच केन्द्र बनाए गए

खनिज अधिकारियों ने बताया कि रेत जांच के लिए हनुमना, मऊगंज के अलावा गुढ़ तहसील में बघवार, गोविंदगढ़ तिराहा सहित त्योथर, जवा और डभौरा क्षेत्र में बनाए गए हैं। जांच नाको के लगने जिले में आने बाली रेत में रायल्टी एवम निर्धारित मात्रा लेकर आ रही है। जिले में मुख्यरूप से रेत सीधी, सिंगरोली और शहडोल से आ रही है। जांच केन्द्रों से रेत के अलावा गिट्टी, पत्थर पटिया सहित अन्य खनिज की जांच की जा रही है।

Powered by Blogger.