MP : पहली बार एक्टिव केस 1 लाख के पार : कोरोना मरीजों की संख्या 7 दिन में 15,297 बढ़ी, इसमें इंदौर अव्वल

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

मध्यप्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस पहली बार एक लाख के पार हो गए हैं। देश में महामारी के हालत देखते हुए अगले 4-5 महीनों में तीसरी लहर आने के भी कयास लगाए जा रहे हैं। इससे निपटने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विशेषज्ञों की कमेटी बनाने के निर्देश दे दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर की तैयारी के लिए विशेषज्ञों की एक कमेटी बनाई जाए। जो यह अध्ययन करेगी कि प्रदेश में इसकी क्या स्थिति है। इसके लिए क्या-क्या तैयारियां और व्यवस्थाएं की जानी चाहिए? उन्होंने प्रदेश का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर भी मजबूत करने की योजना बनाने को कहा है।

प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 11,598 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। आधिकारिक तौर पर कुल 90 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही एक्टिव केस की संख्या 1 लाख 2 हजार 486 हो गई है। बीते 7 दिन में एक्टिव केस, यानी इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 15,297 की बढ़ोतरी हुई है। अगर प्रदेश के चारों बड़े शहरों के बीते हफ्ते के आंकड़े देखें तो सबसे ज्यादा 3,710 एक्टिव केस इंदौर में बढ़े हैं। 1,422 की बढ़ोतरी के साथ भोपाल दूसरे नंबर 1,182 केस के साथ ग्वालियर तीसरे नंबर पर है। सिर्फ जबलपुर में 201 केस कम हुए हैं।

राहत की बात कि पॉजिटिविटी रेट कम हो रहा

प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट लगातार कम हो रहा है। 7 मई को पॉजिटिविटी रेट 17% था। इसके एक दिन पहले यह 18% रहा। प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 6 लाख 60 हजार 712 हो गई है। इसमें से 5 लाख 51 हजार 892 मरीज ठीक हो चुके हैं।

बुरहानपुर से सीखिए...:मोहल्ला क्लीनिक की तर्ज पर कैंप लगाकर किया टारगेट का 110% वैक्सीनेशन, संक्रमण दर का एवरेज सिर्फ 3%; सबसे कम मौत वाले 8 जिलों में भी यह शामिल

रेमडेसिविर इंजेक्शन का मध्यप्रदेश में ही बने

मुख्यमंत्री ने कहा है कि ऐसे प्रयास किए जाएं कि रेमडेसिविर सहित अन्य जीवन रक्षक दवाओं का प्रोडक्शन प्रदेश में ही हो। ऑक्सीजन उत्पादन के लिए सरकार ने नई नीति लागू कर दी है। उन्होंने अफसरों से कहा है कि वे निजी उद्यमियों को इसके लिए प्रेरित करें। सरकार ऑक्सीजन प्लांट के लिए आर्थिक मदद भी दे रही है।

MP में 9407299563 नंबर पर पता करें बेड की स्थिति

सरकार ने अस्पतालों में बेड के ताजा हालात पता करने वाट्सऐप सेवा शुरू की; नहीं पड़ेगी भटकने की जरुरत

प्रधानमंत्री मोदी से फोन पर हुई चर्चा

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर चर्चा की। मुख्यमंत्री ने उन्हें प्रदेश में कोरोना की वर्तमान स्थिति से अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को किल कोरोना अभियान, कोरोना कर्फ्यू, कोरोना वालंटियर्स, आइसोलेशन सेंटर, प्रदेश में बने कोविड केयर सेंटर , अस्थायी कोविड अस्पतालों के निर्माण के लिए सरकार के प्रयास, जनजागरूकता अभियान, योग से निरोग अभियान के बारे में जानकारी दी।

Powered by Blogger.