MP : पत्नी की बेवफाई ने बर्बाद किया परिवार : मौत की खबर सुनते ही पत्नी ने भी लगाया मौत को गले, दोनों ने 2014 में की थी लव मैरिज

ख़बरों के बेहतर एक्सपीरिएंस के लिए डाउनलोड करें Rewa News Media ऐप, क्लिक करें

( ग्राउंड एमपी 17 ऋतुराज द्विवेदी की रिपोर्ट ) भोपाल के टीटी नगर इलाके में पत्नी की बेवफाई से परेशान युवक ने गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात फांसी लगा ली। पति की मौत की खबर पता चलते ही शुक्रवार सुबह घर पहुंची पत्नी ने पेट्रोल डालकर आग लगा ली। इलाज के दौरान दोपहर में उसने भी दम तोड़ दिया। पुलिस को युवक के पास से सुसाइड नोट मिला है। इसमें उसने पत्नी के आशिक (सागर बाबा) के लिए लिखा है कि पत्नी-बच्चे से मिलाने के लिए सागर बाबा के पैर तक छुए, लेकिन वह नहीं पिघला। सागर बाबा ने जीवन तबाह कर दिया। मैं पत्नी, सागर बाबा की वजह से जान दे रहा हूं। दोनों ने वर्ष 2014 में लव मैरिज की थी। सागर बाबा कौन है, पुलिस इसका पता लगाने में जुटी है।

जैन मंदिर के सामने पीएचई कॉलोनी में रहने वाले अक्षय सोमकुंवर उर्फ गोलू (26) पुत्र सूर्यभान सोमकुंवर बल्लभ भवन में लिफ्ट ऑपरेटर था। गुरुवार रात खाना खाने के बाद वह कमरे में चला गया। रात करीब साढ़े बारह बजे उसकी मां कुसुम बाई की नजर पड़ी, तो वह फंदे पर मिला। मां तुरंत ही उसे पड़ोसियों की मदद से जेपी अस्पताल लेकर पहुंची। तब तक देर हो चुकी थी। इधर, शुक्रवार सुबह अक्षय की पत्नी सुधा को पति की मौत के बारे में पता चला। वह घर पहुंची और छत पर चली गई। जहां से पेट्रोल डालकर कमरे में आई। इसके बाद खुद को आग लगा ली। सास कुसुम बाई व रिश्तेदारों ने उसे बचाया। अस्पताल में इलाज के दौरान दोपहर उसकी मौत हो गई।

बेटे को भी आग के हवाले करने का प्रयास

सुधा आग लगाने के बाद चार साल के बेटे को भी आग के हवाले करना चाह रही थी। वह बेटे को खींच रही थी। इसी बीच परिजनों ने उसे छीन लिया। अक्षय के भाई नीलेश ने बताया कि सुधा की वजह से भाई को जान देनी पड़ी। भाई ने सुधा के प्रेमी को लेकर सुसाइड नोट में भी जिक्र किया है, लेकिन पुलिस ने परिजनों को सुसाइड नोट पढ़ने नहीं दिया।

दोस्ती कर पत्नी से बढ़ा ली नजदीकियां

अक्षय और सागर दोनों दोस्त हैं। अक्षय के जरिए ही वह उसकी पत्नी से मिला था। इसके बाद पत्नी से नजदीकियां बढ़ने के बाद अक्षय उस पर शक करने लगा। इसे लेकर पत्नी अक्षय को परेशान करने लगी। अक्षय जब भी पत्नी को इस बारे में बोलता, तो वह सागर से धमकी दिलाती थी। इसी को लेकर दोनों में कई बार विवाद भी हुआ।

7 अक्टूबर को अक्षय को छोड़कर गई

अक्षय के बड़े भाई नीलेश ने बताया कि वह 12 नंबर मल्टी में रहता है, जबकि उसका भाई गोलू उर्फ अक्षय मल्टी में मां के साथ रहता था। गोलू ने 2014 में सुधा शुक्ला से प्रेम विवाह किया था। उनका 4 साल का बेटा भी है। तीन-चार साल से सुधा का प्रेम प्रसंग इलाके के सागर नाम के युवक से शुरू हो गया था। इस बात से गोलू परेशान था। सुधा 7 अक्टूबर को घर से बच्चे को लेकर सागर के साथ चली गई थी। वह पंचशील नगर में उसके साथ रह रही थी।

नस काटने की खबर मिलने के बाद घर आई

गोलू पत्नी को कॉल करता था, लेकिन वह नहीं आ रही थी। इसी से दुखी होकर चार दिन पहले गोलू ने फांसी लगाने का प्रयास किया था। उस समय मां ने बचा लिया। अगले दिन गोलू ने हाथ की नस काट ली थी। इसका पता चलते ही सुधा घर लौट आई। एक दिन रहने के बाद वापस सागर के पास चली गई। गोलू ने पत्नी से फिर घर लौटने की गुजारिश की, लेकिन वह नहीं मानी।


ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या गूगल न्यूज़ या ट्विटर पर फॉलो करें. www.rewanewsmedia.com पर विस्तार से पढ़ें  मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़ और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें  7694943182, 6262171534

Powered by Blogger.