DELHI पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता : आफताब के फ्लैट से काटने के कई धारदार हाथियार बरामद, CCTV में बॉक्स और बैग लिए दिखा आफताब

 
 image

श्रद्धा मर्डर केस की जांच कर रही दिल्ली पुलिस लगातार हत्या से जुड़े सबूत जुटाने में लगी हुई है, जिसके हाथ आज बड़ी सफलता लगी है। पुलिस को आफताब पूनावाला के फ्लैट से काटने के कई धारदार हाथियार बरामद हुए हैं, जिसके बारे में उन्हें संदेह है कि श्रद्धा वाकर के शव को काटने के लिए इन्ही हथियार का यूज हुआ होगा। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आफताब ने कड़ी पूछताछ के बाद पुलिस को हथियार के बारे में जानकारी दी है, जिसके बाद छतरपुर स्थित उसके फ्लैट से ये हथियार बरामद हुए हैं।

इसके बाद अब पुलिस इन हथियारों को फोरेंसिक जांच के लिए भेजेगी, जिससे यह साफ हो पाएगा कि पुलिस का संदेह सही है या फिर से आफताब ने पुलिस को गलत जानकारी दी है। हालांकि पुलिस को अभी तक वो कपड़े बरामद नहीं हुए हैं, जिसे आफताब ने हत्या वाले दिन पहना था।

पुलिस ने आफताब के साथ ही श्रद्धा के कपड़े भी किए बरामद
दिल्ली पुलिस ने आफताब के घर में मौजूद कपड़ों को अपने कब्जे में ले लिया है। बताया जा रहा है कि इन कपड़ो में ज्यादातर कपड़े आरोपी हत्यारे आफताब के हैं और कुछ कपड़े श्रद्धा के भी मिले हैं। इन कपड़ो को भी पुलिस फोरेंसिक जांच के लिए भेजेगी, जो इस मामले में अहम सबूत साबित हो सकते हैं।

 CCTV में बॉक्स और बैग लिए जाता दिखा अफताब
पुलिस के हाथ 18 अक्टूबर 2022 की सुबह 4 बजे का एक CCTV फुटेज हाथ लगा है, जिसमें हत्यारा आरोपी पीठ पर टांगे एक बैग और बॉक्स ले जाते दिखाई दे रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि वह इस बैग में श्रद्धा के शव के टुकड़े को भरकर ठिकाने लगाने जा रहा था। हालांकि पुलिस ने अधिकारी रूप से इस केस को लेकर अभी कुछ भी नहीं बता रही है।

श्रद्धा मर्डर केस के बाद महाराष्ट्र में एक पथक गठित करने के आदेश
महाराष्ट्र के महिला एवं बाल मंत्री मंगल प्रभात ने कहा कि "मैंने राज्य महिला आयोग को एक टीम बनाने का निर्देश दिया है। जब कोई लड़की 18 साल की उम्र पार कर जाती है तो उसे उसके परिवार या पुलिस द्वारा नहीं रोका जा सकता है। जब वह अपने परिवार से लड़ती है, इस तरह शादी करती है और चली जाती है, तो वह जानती है कि उसे बाद में अपने परिवार से कोई मदद नहीं मिलेगी।" उन्होंने कहा कि हमने हाल ही के श्रद्धा हत्याकांड मामले के रूप में देखा कि तब क्या होता है। इसलिए यह सुनिश्चित करने के लिए कि अन्य लड़कियों के साथ ऐसा न हो, यह दस्ता काम करेगा और उन लड़कियों को सहायता और सुरक्षा प्रदान करेगा, जो जरूरत पड़ने पर अपने परिवारों से अलग हो गए हैं।

Related Topics

From Around the Web

Latest News