BHOPAL : JYOTIADITYA SCINDIA के कांग्रेस छोड़ते ही लगी इस्तीफों की झड़ी


भोपाल। पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा कांग्रेस छोड़े जाने के बाद मंगलवार को इस्तीफों की झड़ी लग गई। उनके प्रभाव वाले ग्वालियर-चंबल क्षेत्र के कांग्रेस नेताओं सहित प्रदेश कांग्रेस के कई पदाधिकारियों ने सोशल मीडिया पर इस्तीफे देने का एलान किया। मध्य प्रदेश सेवादल के अध्यक्ष सत्येंद्र यादव ने इस्तीफा देकर कुछ घंटे बाद ही वापस ले लिया। वहीं, इन इस्तीफों को लेकर पीसीसी के संगठन प्रभारी उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने कहा कि जिन लोगों ने इस्तीफा दे दिया, वे चले जाएं। इन्हें स्वीकार करने की औपचारिकता की जरूरत नहीं है। सिंधिया ने जब मंगलवार को सुबह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद जैसे ही कांग्रेस अध्यक्ष को खत लिख्ाकर पार्टी छोड़ने का एलान किया, वैसे ही उनके समर्थकों ने धड़ाधड़ इस्तीफे देना शुरू कर दिए। सबसे पहले बेंगलुरु में ठहरे कमलनाथ सरकार के 19 मंत्री व विधायकों ने सामूहिक रूप से इस्तीफा दिखाते हुए तस्वीर को वायरल किया। भोपाल में पीसीसी के प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने तुरंत सोशल मीडिया पर कमेंट किया कि जहां सिंधिया, वहां मैं। इसके साथ ही अपने टि्वटर अकाउंट से कांग्रेस हटा दिया।

इंदौर जिला कांग्रेस अध्यक्ष टंडन ने पद छोड़ा : सिंधिया समर्थक इंदौर के जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद टंडन ने अपना इस्तीफा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजा और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने के बाद अवसरवादियों और दलाल उसमें सर्वेसर्वा हो गए हैं। उज्जैन के पूर्व विधायक राजेंद्र भारती ने भी सिंधिया के समर्थन में इस्तीफा दे दिया है। वहीं, प्रदेश सेवादल के अध्यक्ष सत्येंद्र यादव ने मंगलवार को सिंधिया के पार्टी छोड़ने की घोषणा के बाद टि्वटर पर पार्टी से त्यागपत्र देने की पोस्ट की पर सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी देसाई ने उन्हें आदेश देकर काम करने को कहा तो उन्होंने इस्तीफा वापस ले लिया


सोशल मीडिया पर इस्तीफों से भरे व्हॉट्सएप ग्रुप

अशोक नगर में कांग्रेस ने सामूहिक इस्तीफे दिखाते हुए सोशल मीडिया पर फोटो वायरल किया तो सिंधिया के भाजपा नेताओं से मुलाकात के बाद शिवपुरी के कांग्रेस नेता प्रदेश सचिव राकेश जैन आमोल व विजय शर्मा और राजेंद्र मजेजी के इस्तीफे की खबर वायरल हुई। सागर के जिला कांग्रेस अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत ने भी इस्तीफा दिया। राजपूत सिंधिया खेमे से कमलनाथ सरकार में मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के भाई हैं। इसी तरह सागर के जिला युवा कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष श्रीकांत छोटू सिलाकारी ने भी कांग्रेस छोड़ दी।


Powered by Blogger.