BHOPAL : कमलनाथ हारे MP में हुई जनता की जीत : ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया


मध्य प्रदेश में जारी सियासी संकट सीएम कमलनाथ के इस्तीफे के साथ समाप्त हो गया है। कमलनाथ के इस्तीफे के बाद से बीजेपी में सरकार बनाने को लेकर हलचल तेज हो गई है। बीजेपी का दावा है कि 230 सीटों वाली मध्य प्रदेश विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए उसके पास जरूरी संख्या है। हर ताजा अपडेट जानने के लिए rewanewsmedia.com से जुड़े रहें

लाइव कवरेज
सिंधिया बोले- सच्चाई की फिर विजय हुई
मध्य प्रदेश में आज जनता की जीत हुई है। मेरा सदैव ये मानना रहा है कि राजनीति जनसेवा का माध्यम होना चाहिए। लेकिन प्रदेश सरकार इस रास्ते से भटक गई थी। सच्चाई की फिर विजय हुई है। सत्यमेवजयते।

मध्य प्रदेश में आज जनता की जीत हुई है। मेरा सदैव ये मानना रहा है कि राजनीति जनसेवा का माध्यम होना चाहिए, लेकिन प्रदेश सरकार इस रास्ते से भटक गई थी। सच्चाई की फिर विजय हुई है। सत्यमेवजयते

कैलाश विजयवर्गीय बोले- बीजेपी सरकार बनाने को तैयार
मध्य प्रदेश में 15 महीने सरकार चलाने के बाद कमलनाथ ने शुक्रवार 20 मार्च को इस्तीाफा दे दिया। उन्होंने बताया कि वह एक बजे राज्यपाल लालजी टंडन से मिलकर उन्हें अपना इस्तीफा सौपेंगे। वहीं दूसरी तरफ मध्य प्रदेश में बीजेपी एक्टिव मोड में आ गई है। इधर, कमलनाथ के इस्तीफे का ऐलान हुआ, इसके तुरंत बाद राज्य तीन बार सीएम रहे शिवराज चैहान को बीजेपी विधायकों ने विधायक दल का नेता चुन लिया। शिवराज ने कहा कि वह सरकार बनाने के लिए तैयार हैं और राज्यपाल के न्यौते का इंतजार कर रहे हैं। इसके साथ ही कैलाश विजयवर्गीय ने भी कहा हम सरकार बनाने को तैयार हैं।

शिवराज बोले- राज्यपाल के न्यौते का इंतजार
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस्तीफा दे दिया है। उनके इस्तीफे के तत्काल बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने त्वरित प्रतिक्रिया में कहा कि अब हमें है राज्यपाल के न्यौते का इंतजार। इसके साथ ही शिवराज सिंह चौहान को मध्य प्रदेश बीजेपी विधायक दल का नेता भी चुना लिया गया है।

1 बजे गवर्नर को दूंगा इस्तीफा
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री थोड़ी देर में राज्यपाल लालजी टंडन से मिलेंगे। उनसे मुलाकात के दौरान अपना इस्तीफा देंगे।

सियासी संकट
मध्य प्रदेश में जारी सियासी संकट को कुछ देर बाद पटाक्षेप होने वाला है। थोड़ी देर में एमपी के मुख्यमंत्री कमलनाथ प्रेस काॅन्फ्रेंस करेंगे। इससे पहले दिग्विजय सिंह ने कहा था कि विधानसभा में कांग्रेस के पास बहुमत नहीं है उसके बाद से यह कयास लगाया जा रहा है कि प्रेस काॅन्फ्रेंस के दौरान सीएम कमलनाथ इस्तीफा दे सकता है।
Powered by Blogger.