BHOPAL : सिंधिया का इशारा मिलते ही होगा बड़ा उलटफेर, शाह के साथ बनी थी रणनीति


नई दिल्ली/भोपाल. मध्यप्रदेश में कमलनाथ की सरकार पास होगी या फेल इसे लेकर विधानसभा में फ्लोर टेस्ट होना है। हालांकि राज्यपाल के आदेश के बाद भी फ्लोर टेस्ट को लेकर सस्पेंस बना हुआ है। कांग्रेस और भाजपा के विधायक फ्लोर टेस्ट के लिए भोपाल पहुंचे चुके हैं। लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक विधायकों को लेकर अभी भी स्थिति स्पष्ट नहीं है कि वो विधानसभा की कार्यवाई में हिस्सा लेने आएंगे या नहीं। सूत्रों का कहना है कि बागी विधायक ज्योतिरादित्य सिंधिया के इशारे का इंतजार कर रहे हैं।

चार्टर्ड प्लेन तैयार

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस के 16 बागी विधायकों को बेंगलुरू से भोपाल लाने के लिए 3 चार्टर्ड प्लेन तैयार हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया का इशारा मिलते ही कांग्रेस के बागी विधायक भोपाल के लिए रवाना हो जाएंगे। वहीं, दूसरी तरफ अटकलें ये भी लगाई जा रही हैं कि आज ज्योतिरादित्य सिंधिया भी भोपाल पहुंचे सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया विधानसभा की कार्यवाही को देखने के लिए विधानसभा भी जा सकते हैं। बताया जा रहा है कि अगर विधानसभा में फ्लोर टेस्ट नहीं होता है ऐसी स्थिति में भाजपा और कांग्रेस के बागी विधायक राजभवन तक परेड कर सकते हैं।

होटल में शिफ्ट किए गए हैं सिंधिया समर्थक विधायक

रविवार को ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक विधायकों ने मध्यप्रदेश आने की इच्छा जाहिर की थी लेकिन उन्होंने कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा था रि हमें जान का खतरा है इसलिए हमें सीआरपीएफ की सुरक्षा प्रदान की जाए। कांग्रेस के 22 विधायकों को गोल्फशायर रिसॉर्ट से रमाडा होटल में शिफ्ट किया गया है। वहीं, दूसरी तरफ ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गृहमंत्री अमित शाह के साथ करीब 2 घंटे तक मध्यप्रदेश के जारी सियासी ड्रामे की बीच रणनीति तय की है। सूत्रों का कहना है कि इसी बैठक में यह तय हुआ था कि सिंधिया के इशारे के बाद बागी विधायक भोपाल पहुंचेंगे।

6 विधायकों के इस्तीफे मंजूर

ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के बाद कांग्रेस के 22 विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। 22 में से 19 विधायक ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक हैं। विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने सिंधिया समर्थक 6 विधायकों के इस्तीफे मंजूर कर लिए हैं, लेकिन अभी भी 16 विधायकों के इस्तीफे मंजूर नहीं हुए हैं।
Powered by Blogger.