CORONA INDORE : इंदौर के अस्पताल में भर्ती CORONAVIRUS संदिग्ध मरीज की मौत


इंदौर. इंदौर के अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस संदिग्ध की मौत हो गई। डीन डॉक्टर ज्योति बिंदल ने कहा कि उसके सैंपल जांच के लिए भेजे थेए लेकिन रिपोर्ट आना बाकी है। इसके बाद ही साफ हो सकेगा कि वो कोराना वायरस पॉजिटिव था या नहीं। जानकारी के मुताबिक जिस मरीज की मौत हुई है वो उज्जैन का रहने वाला है। इसके पहले कोरोना वायरस के संक्रमण की चपेट में आने से बुधवार को इंदौर में भर्ती उज्जैन की 65 वर्षीय महिला ने दम तोड़ दिया।

मध्य प्रदेश में कोरोना से होने वाली यह पहली मौत है। बुधवार तड़के कोरोना पॉजिटिव की संख्या इंदौर में पांच थीए शाम होते.होते यह आंकड़ा दो गुना हो गया। बुधवार देर रात पांच और मरीजों में कोरोना संक्रमण मिला। एमजीएम मेडिकल कॉलेज की डीन डॉण् ज्योति बिंदल ने इसकी पुष्टि की है। इंदौर में प्रशासन ने शहर में कर्फ्यू लगा दिया। संक्रमित मरीजों के घरों की सघन जांच की जा रही है। कलेक्टर लोकेश जाटव ने बताया कि बुधवार रात आई रिपोर्ट में पॉजिटिव पाए गए सभी मरीज इंदौर के हैं। इनमें 3 पुरुष और 2 महिला हैं। दो 35 वर्षीय पुरुष रानीपुरा निवासी एमवायएच अस्पताल में भर्ती हैं।

खातीवाला टैंक निवासी 55 वर्षीय महिला गोकुलदास अस्पताल में भर्ती है। निपानिया निवासी 38 वर्षीय पुरुष शैलबी अस्पताल भर्ती है। खजराना निवासी एक महिला सुयश अस्पताल में भर्ती है। स्वजन को भी आइसोलेशन में रखा गया है। बुधवार को कोरोना वायरस जांच के लिए भेजे गए सैंपल में से दस की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें उक्त मृत महिला भी शामिल है। कुछ मरीज बॉम्बे अस्पतालए अरिहंत हॉस्पिटल और एमआर टीबी अस्पताल में भर्ती हैं।

सीएमएचओ प्रवीण जड़िया के अनुसार जो मरीज पॉजिटिव मिले हैंए उनकी विदेश यात्रा की कोई पुष्टि नहीं है। ये लोग भारत में ही अलग.अलग जगहों पर यात्रा व शादी समारोह से हाल ही में लौटे हैं। पॉजिटिव मरीजों में उज्जैन निवासी 65 वर्षीय महिला सहित इंदौर निवासी 50 वर्षीय महिलाए 48ए 68 और 65 वर्षीय तीन पुरुष शामिल हैं। इनमें से दो पुरुष आपस में दोस्त हैं जो हाल ही में वैष्णो देवी की यात्रा से लौटे हैं। इंदौर निवासी मरीज चंदन नगर और मनीष पुरी कॉलोनी के निवासी हैं।

स्वास्थ्य विभाग ने रैपिड एक्शन टीम भेजकर इनके स्वजन की जांच कराई है। चंदन नगर क्षेत्र में मिलने वाले मरीज के स्वजन में से एक चंदन नगर थाने में पदस्थ है। इसकी जानकारी के बाद विभाग की टीम ने उनकी जांच कराई है। वहींए उज्जैन से मिली महिला के स्वजन को हुकुमचंद पॉलीक्लिनिक में भर्ती कराया गया है। इनके संपर्क में आने वाले तथा आसपास रहने वाले सभी मरीजों की जानकारी ली जा रही है।

थर्ड स्टेज में न पहुंचेंए इसके लिए करना होगा विशेष प्रयास रू कोरोना वायरस फर्स्ट और सेकंड स्टेज को पार कर चुका है। भारत में कुछ राज्यों में इसकी थर्ड स्टेज की स्थिति बन रही है जिसके कारण शासन स्तर पर लॉकडाउन और कर्फ्यू का एलान भी किया गया है। इंदौर में मिले मरीज विदेश यात्रा पर नहीं गएए लेकिन वैष्णो देवी और सामूहिक शादी या पारिवारिक आयोजनों से लौटे हैंए जिसे लेकर विभाग अब चिंता में आ चुका है।

शहर के जिन चार इलाकों में कोरोना के मरीज पाए गए हैंए उनके घर से तीन किमी के दायरे को कंटेंटमेंट जोन घोषित किया गया है। इस दायरे के हर घर के हर सदस्य की जांच होगी। इन घरों के आसपास के पांच किमी के दायरे को बफर जोन घोषित किया गया है। उधरए उज्जैन की कोरोना संक्रमित जानसापुरा निवासी 65 वर्षीय महिला की इंदौर के अस्पताल में मौत हो गई। इसके बाद प्रशासन ने शहर में कर्फ्यू लगा दिया है।
Powered by Blogger.