CORONAVIRUS : इंदौर में अस्पताल से भागे कोरोना पॉजिटिव दो मरीज, दोनों को पकड़ा


इंदौर। एमआरटीबी अस्पताल में भर्ती कोरोना पॉजिटिव दो मरीज रविवार सुबह अस्पताल से भाग गए। इसके बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया और तलाशी के बाद दोनों को खजराना से पकड़ा गया। एक दिन पहले ही शनिवार को भी इनमें से एक मरीज वार्ड से बाहर आकर आधे घंटे घूमता रहा था। इसे अस्पताल प्रशासन की बड़ी लापरवाही माना जा रहा है। अब सवाल खड़े होने लगे हैं कि जब सड़कों पर जगह-जगह पुलिस लोगों को रोककर पूछताछ कर रही है, ऐसे में दो पॉजिटिव मरीज कैसे अस्पताल से भाग निकले।
शनिवार को एमआरटीबी अस्पताल में बनाए स्पेशल वार्ड में भर्ती पॉजिटिव मरीज आधा घंटा तक बेरोकटोक अस्पताल परिसर में घूमता रहा। उस वक्त वहां दो दर्जन से ज्यादा लोग हंगामा कर रहे थे। मरीज भी इन्हीं में शामिल होकर अस्पताल की व्यवस्थाओं को कोसने लगा। कर्मचारियों ने उससे पूछताछ तो पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव है और स्पेशल वार्ड में भर्ती है। हंगामा होता देख वह भी बाहर निकल आया था। इतना सुनते ही वहां सन्नाटा छा गया। कर्मचारियों ने किसी तरह मरीज को वापस वार्ड में भिजवाया। शनिवार दोपहर करीब दो बजे एमआरटीबी अस्पताल में भर्ती एक मरीज की मौत हो गई। परिजन ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। करीब दो दर्जन लोग अस्पताल की व्यवस्थाओं को कोस रहे थे। इन्हीं में लाल टीशर्ट पहना करीब 40 वर्षीय एक व्यक्ति भी था। शोर सुनकर अस्पताल का तकनीकी स्टाफ वहां पहुंचा।
लाल टीशर्ट पहना यह व्यक्ति उस वक्त कह रहा था कि वार्ड में कोई डॉक्टर देखने नहीं आता है। स्टाफ ने उससे पूछा कि तुम यह कैसे कह सकते हो तो वह बोला कि मैं यहां बने स्पेशल वार्ड में भर्ती हूं। कल ही आपने मेरे पास के बेड पर भर्ती मरीज का एक्सरे किया था। इतना सुनते ही लोग सकते में आ गए। उन्होंने खुद को उस व्यक्ति से अलग कर लिया। स्टाफ ने डांट-दपट कर उस व्यक्ति को वापस स्पेशल वार्ड में भेजा।
Powered by Blogger.