MP FLOOR TEST से पहले CM कमल नाथ का इस्तीफा, भाजपा शाम को करेगी सरकार बनाने का दावा



भारतीय जनता पार्टी विधायक दल की बैठक में शिवराज सिंह चौहान को नेता चुना गया। सीएम कमल नाथ का बयान मैंने तय किया है कि राज्यपाल को आज इस्तीफा दूंगा।  पूर्व गृह मंत्री और भाजपा विधायक भूपेंद्र सिंह ने फ्लोर टेस्ट के पहले अपने बंगले पर भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी एवं अन्य नेताओं के साथ मुलाकात की।

मप्र के मुख्यमंत्री कमल नाथ ने की इस्तीफे की घोषणा : मंत्री प्रदीप जायसवाल ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया। 

कमल नाथ ने कहा कि हमारे पास पद हो या न हो। प्रदेश के किसानों व युवाओं के लिए हमेशा काम करते रहेंगे। सबको याद रखना है कि आज के बाद कल भी आता है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद मुख्यमंत्री कमल नाथ से मिलेंगे। 

उन्होंने कहा कि हम जनता के साथ हमेशा खड़े रहेंगे। हमने बीते 15 महीने में एक सफल सरकार दी है। भाजपा मेरे हौसलों को हरा नहीं सकती है। जनता का विश्वास हमारे साथ है। कर्तव्य पथ पर हम कभी न झुके थे और ना झुकेंगे। 

कमन नाथ ने कहा कि प्रदेश की जनता इस सच्चाई को जानती है कि मैंने प्रदेश के विकास के लिए दिन-रात एक कर दिया। 15 महीनों में हमारी सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा। 

15 महीने में 400 वचनों को हमने पूरा किया। भाजपा के शासनकाल में बेरोजगारी बढ़ी थी। हमने रोजगार देने वाले कार्य शुरू किए। इंदौर में मेट्रो के कार्य को अागे बढ़ाने का काम शुरू किया। हमने झूठी घोषणाएं नहीं की। आदिवासियों को साहूकारों से मुक्ति दिलाने का काम किया। 

मुख्यमंत्री  कमल नाथ ने कहा कि भाजपा को 15 साल शासन करने के लिए मिले थे। आज तक मुझे केवल 15 महीने मिले। ढाई महीने लोकसभा चुनाव और आचार संहिता में गुजरे। इन 15 महीनों मे राज्य का हर नागरिक गवाह है कि मैंने राज्य के लिए जन हितैषी कार्य किया, लेकिन बीजेपी को ये काम रास नहीं आए और उसने हमारे खिलाफ निरंतर काम किया।

भाजाप ने 22 विधायकों को प्रलोभन देकर कर्नाटक में बंधक बनाने का काम किया। करोड़ों रुपये खर्च करके सरकार गिरने का यह खेल खेला गया: कमल नाथ

कमल नाथ बोले, हमने पहले दिन से काम शुरू कर दिया। किसानों की ऋण माफी के लिए कदम उठाया। शुद्ध का युद्ध, माफिया के खिलाफ  अभियान शुरू किया। इसके अलावा भी कमल नाथ ने कई योजनाओं का जिक्र किया। 

कमलनाथ ने कहा कि भाजपा पिछले 15 महीनों से सरकार गिराने की साजिश कर रही है। धोखा देने वालों को प्रदेश की जनता कभी भी माफ नहीं करेगी। महाराज के साथ मिलकर भाजपा ने जनता को धोखा दिया है। 

मुख्यमंत्री कमलनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने मुझे पांच साल सरकार चलाने का बहुमत दिया था। लेकिन भाजपा ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा शुरू से कहती आ रही है कि ये सरकार सिर्फ 15 दिन चलेगी। 

भाजपा विधायक शरद कौल को भारी पड़ी दो नाव की सवारी
भोपाल । भाजपा विधायक शरद कौल के लिए भारी पड़ी दो नाव की सवारी। भाजपा में रहकर समय समय पर कमल नाथ सरकार के साथ खड़े होते रहे शरद कौल का इस्तीफा भी विधानसभा अध्यक्ष ने स्वीकार कर लिया है। बताया जा है कि पिछले दिनों कमल नाथ के प्रति वफादारी दिखाने के लिए उन्होंने चुपके से अपना त्यागपत्र लिखकर दे दिया था। उन्हें अनुमान था कि कमल नाथ सरकार मुसीबतों को पारकर बनी रहेगी। इस बीच कल सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर विधानसभा अध्यक्ष ने जब कांग्रेस के 16 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए तो कांग्रेस ने भी पलटवार कर दिया। आज विधानसभा अध्यक्ष ने पत्रकार वार्ता में इसकी पुष्टि करके चौंका दिया कि उन्होंने भाजपा विधायक शरद कौल का भी त्यागपत्र मौजूद कर लिया है। इस खुलासे के बाद शरद कौल ने विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर सफाई दी है कि उनका इस्तीफा दबाव में लिखवाया गया है, इसलिए उनका इस्तीफा स्वीकार न किया जाए।

समाजवादी पार्टी और बसपा विधायक फ्लोर टेस्ट में हिस्सा नहीं लेंगे।

कांग्रेस विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के अनुज लक्ष्मण सिंह ने कहा कांग्रेस विधायकों का मनोबल बढ़ा हुआ है। कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री निवास पर पहुंच रहे है विधायक।

खबर आई है कि भाजपा विधायक शरद कौल, जिनका विधानसभा अध्यक्ष ने इस्तीफा स्वीकार किया है। उन्होंने पत्र लिखा है कि मेरे से दबाव में इस्तीफा लिखाया गया। 

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बंगले की सुरक्षा बढ़ाई गई। 

एक भाजपा विधायक का भी इस्तीफा मंजूर

मप्र विधानसभा के स्पीकर एनपी प्रजापति ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस। उन्होंने कहा कि मप्र के इतिहास में एक साथ इतनी विधायकों के इस्तीफे कभी नहीं हुए। उन्होंने कहा कि मैंने दुखी मन से सभी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए। अभी तक कुल 23 विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए जा चुके हैं। इसमें एक शहडोल विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक शरद कोल भी शामिल है।

भोपाल । सीहोर में हुई बीजेपी विधायक दल की बैठक, शिवराज सिंह चौहान, विनय सहस्त्रबुद्धे ,कैलाश विजयवर्गीय, वीडी शर्मा हुए शामिल, बैठक में फ्लोर टेस्ट पर बनी रणनीति

भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक और कांगेस के बागी विधायक सुरेश राठखेड़ा की बेटी ने ससुराल में आत्महत्या कर ली है। मिली जानकारी के मुताबिक सुरेश राठखेड़ा पोहरी विधानसभा सीट से विधायक हैं और हाल ही में मध्यप्रदेश में चल रहे सियासी संकट के दौरान कांग्रेस से बगावत करके बेंगलुरु में ठहरे हुए हैं।

दिग्विजय बोले, कमल नाथ सरकार के पास बहुमत नहीं
मप्र सरकार का आज फ्लोर टेस्ट होने से पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने एक इंटरव्यू में कहा कि 22 विधायकों के इस्तीफे होने के बाद कमल नाथ सरकार के पास बहुमत नहीं है। उन्होंने कहा कि पैसे और सत्ता के दमपर बहुमत वाली सरकार को अल्पमत में लाया गया है।

फ्लोर टेस्ट से पहले मध्य प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की बैठक सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री निवास पर होगी। उसके बाद 12 बजे मुख्यमंत्री कमल नाथ सीएम हाऊस में ही प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।

फ्लोर टेस्ट पर बोले स्पीकर, सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सम्मान होगा
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मप्र विधानसभा में आज दोपहर 2 बजे फ्लोर टेस्ट होगा। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद स्पीकर एनपी प्रजापति ने कहा कि मैं उच्चतम न्यायालय के फैसले का सम्मान करता हूं और नियमपूर्वक विधानसभा में फ्लोर टेस्ट संपन्न कराऊंगा।

कांग्रेस ने अपने विधायकों के लिए व्हिप जारी किया है। सभी विधायकों को फ्लोर टेस्ट के दौरान सदन में उपस्थित रहने के लिए कहा गया है।

भाजपा नेता ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर ट्वीट करते हुए कहा है कि मध्यप्रदेश में लोकतांत्रिक मूल्यों को बचाने के लिए आज माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए फैसले का स्वागत करता हूं। 

मुख्यमंत्री कमल नाथ आज दोपहर 12 बजे सीएम हाउस में पत्रकारों से चर्चा करेंगे।

विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने गुरुवार देर रात कांग्रेस के 16 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए हैं।विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए हैं।
Powered by Blogger.