MP LIVE : कांग्रेस विधायक का आरोप, शिवराज सिंह चौहान ने दिया था 35 करोड़ का ऑफर


मध्य प्रदेश के विधायकों की खरीद-फरोख्त को लेकर उठ रहे मामले के बीच सीएम कमलनाथ भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरे घटनाक्रम की जानकारी देंगे। इसके पहले मंगलवार देर रात मध्य प्रदेश के मंत्री जीतू पटवारी और जयवर्धन सिंह गुरुग्राम के होटल से बसपा विधायक रामबाई को अपने साथ बाहर लाए। पटवारी आरोप लगाया कि भाजपा ने उन्हें बंधक बना रखा था। यह भी आरोप लग रहे हैं कि मध्य प्रदेश के कुछ अन्य विधायकों को भी भाजपा ने अपने पास बंधक बना रखा है। उधर तराना से कांग्रेस विधायक मनोज परमान ने शिवराज सिंह चौहान पर 35 करोड़ रुपए का ऑ‍फर देने का आरोप लगाया है। दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया कि शिवराज सिंह चौहान ने यह पूरा षडयंत्र रचा, दो प्राइवेट विमानों से वे विधायकों को ले जाने की तैयारी में थे। विधायक हरदीप सिंह डंग, बिसाहू लाल, रघुरंजन कंसाना और सुरेंद्र सिंह शेरा अभी भी बेंगलुरु में भाजपा के कब्जे में हैं। भाजपा ने सभी के फोन छीन लिए हैं। विधायकों की मर्जी के बिना भाजपा नेता अपने साथ ले गए हैं। दिग्विजय ने कहा मैं बिना प्रमाण कुछ नहीं कहता।
  • 5 बार से कांग्रेस विधायक बिसाहूलाल के गुरुग्राम पहुंचने से राजनीति गरमाई

    अनूपपुर विधानसभा सीट से विधायक व पूर्व मंत्री बिसाहूलाल सिंह के दिल्‍ली और गुरुग्राम स्थित होटल में भाजपा नेताओं के साथ दिखाई देने की खबर से स्‍थानीय स्‍तर पर राजनीति का माहौल गरम हो गया है। जिले में 3 विधानसभा है, जिसमें तीनों ही कांग्रेस के पास है। इसी में से एक विधानसभा अनूपपुर जिसके विधायक बिसाहूलाल सिंह जो सन 1980 में पहली बार विधायक चुनकर आए थे। अभी तक वे 5 बार कांग्रेस के विधायक इसी सीट से चुनकर आ चुके हैं। पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्विजय सिंह के कार्यकाल में बिसाहूलाल सिंह पीडब्‍ल्‍यूडी मंत्री ऊर्जा मंत्री और आदिवासी विकास मंत्री बन कर कार्य कर चुके हैं। वर्तमान विधानसभा में भी मंत्री बनने के इनके पूरे आसार थे, लिस्‍ट में नाम होने के बावजूद अंतिम समय में उनका नाम हटा दिया गया था। तब से वे नाराज चल रहे थे। बुधवार को दिल्‍ली और भोपाल से खबरें सुर्खियों में होने से उनके समर्थक चौके हुए हैं। विधायक बिसाहूलाल के जमुना कालरी स्थित निवास पर ताला लगा है, घर पर कोई नहीं है। कांग्रेस जिला अध्‍यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल से जानकारी ली गई तो उनका कहना है कि एक मार्च को विधायक अपने निजी काम से रायपुर गए थे। उसके बाद से उनका फोन बंद है और संपर्क नहीं हो पाया है। हो सकता है वहीं से उन्‍हें कोई जबरदस्‍ती उठा ले गया हो। बिसाहूलाल जी 40 वर्षों से कांग्रेस के निष्‍ठावान कार्यकर्ता रहे हैं। वे कोई गलत कदम नहीं उठा सकते।
  • भिंड के बसपा विधायक बोले - सीएम कमलनाथ से मंत्रीपद मांगेंगे

    भिंड से विधायक संजीव सिंह संजू से ने कहा कि फिलहाल वे दिल्ली में हैं। यहां से भोपाल पहुंचेंगे। कहा सरकार के साथ हूं, मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ हूं। मुख्यमंत्री से कभी मंत्री बनाने के लिए नहीं कहा, लेकिन अब कहेंगे कि मंत्री बनाया जाए। चंबल के गोहद से विधायक रणवीर जाटव के मोबाइल बंद है। मंगलवार सुबह 10 बजे तक वे ग्वालियर में अपने घर में क्षेत्र के लोगों से मिले हैं। इसके बाद से कोई लोकेशन नहीं है।
  • उज्जैन विधायक महेश परमार का आरोप, शिवराज ने दिया था 35 करोड़ का ऑफर

    उज्जैन के तराना से विधायक महेश परमार ने शिवराज सिंह चौहान पर लगाया 35 करोड़ का ऑफर देने का आरोप। उन्होंने मंत्री बनाने का भी ऑफर दिया था, 2 मार्च को खुद शिवराज सिंह चौहान ने कॉल किया था। विधायक महेश परमार ने कहा कि मैं चैलेंज करता हूं कि शिवराज बाबा महाकाल की कसम खाकर सच बताएं।
  • मध्य प्रदेश में विधायकों पर आईबी और लोकल इंटेलीजेंस की नजर

    मध्य प्रदेश में विधायकों की खरीद-फरोख्त का मामला सामने आने के बाद आईबी और लोकल इंटेलीजेंस की टीम भी सक्रिय हो गई है, सभी विधायकों पर नजर रखी जा रही है। इसके साथ ही सभी जिलों के कलेक्टर और एसपी को अपने क्षेत्र के विधायकों पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं। एडीजी इंटेलिजेंस एसडब्ल्यू नकवी लगातार इसकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं।
  • एमपी के पंचायत मंत्री बोले- कई भाजपा विधायक कांग्रेस के संपर्क में

    पंचायत मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा कि भाजपा कई विधायक कांग्रेस के संपर्क में है। उन्होंने साफ कहा है कि सरकार गिराने का सपना देख रही भाजपा को शायद पता नहीं उसके विधायक खुद ही कांग्रेस के संपर्क में हैं। जब भाजपा अपना घर ही नहीं बचा पा रही तो सरकार गिराने की तो दूर की कौड़ी है। हम आपको बता दें कि कांग्रेस पार्टी को सरकार गिरने का कोई खतरा ही नहीं है, लेकिन यह जरूर है कि तकरीबन आधा दर्जन से अधिक विधायक कांग्रेस के संपर्क में हैं। मंत्री पटेल ने कहा कि सरकार गिराने की बात करने वाली भाजपा अपने किले को बचाने में नाकाम है, जरूरत पड़ी तो फ्लोर टेस्ट में हम 135 का आंकड़ा भी पार कर सकते हैं।
  • शिवराज ने कहा- सरकार खुद आ गिरे तो भाजपा क्या करे

    भोपाल पहुंचे शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पूरा प्रदेश त्राहि-त्राहि कर रहा है, किसान परेशान हैं, गरीब परेशान हैं, कांग्रेस के विधायक खुद परेशान हैं। मामला उनके घर का है और आरोप हम पर लगा रहे हैं। भाजपा सरकार नहीं गिराना चाहती थी, खुद आ गिरे तो भाजपा क्या करे। दिग्विजय के दिल्ली जाने के सवाल पर बोले मैं तो दिल्ली आता जाता रहता हूं, मैं पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हूं, दिग्विजय सिंह को इससे क्या लेना देना मैंने दिल्ली में क्या किया? शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कांग्रेस में इतने गुट है कि मारामारी खुद में मची है और आरोप हम पर लगा रहे हैं। हम ऐसी किसी गतिविधि में शामिल नहीं है, लेकिन अपने बोझ से अगर सरकार में कुछ होता है तो हम कुछ नहीं कह सकते। अभी हमें उप चुनाव जीतना है, राज्यसभा दिग्विजय सिंह जाएंगे या ज्योतिरादित्य सिंधिया कहीं इसी वजह से तो यह सब नहीं हो रहा है। सरकार के संकट के सवाल पर बोले- अभी तो हमें उप चुनाव जीतना मैं आगर जा रहा हूं।
  • कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि ये कांग्रेस की अंदरुनी लड़ाई

    भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयगर्वीय ने कहा कि ये कांग्रेस की अंदरुनी लड़ाई है। कांग्रेस विधायकों में फस्ट्रेशन है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस के युवा विधायक ये सोच रहे हैं कि दिल्ली और भोपाल दोनों जगह नेतृत्व ठीक नहीं है, ऐसे में उनका भविष्य का क्या होगा।
  • मंत्री बृजेंद्र सिंह का आरोप- काले धन से विधायकों को खरीदने की कोशिश

    मध्य प्रदेश के मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर ने कहा कि जिन लोगों ने विधायकों को खरीदने की कोशिश की, उन्होंने कालेधन का इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार पूरे 5 वर्ष तक चलेगी, अगर जरूरी हो तो फ्लोर टेस्ट करा लो।
  • अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि एमपी सरकार को तोड़ने भाजपा ने पूरी ताकत झोंक दी

    मध्य प्रदेश में विधायकों की खरीद-फरोख्त पर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि मध्य प्रदेश की सरकार को तोड़ने के लिए भाजपा ने सारी ताकत झोंक दी है। शिकार की राजनीति करके हमारे पक्ष के विधायकों को डरा के, लुभा के, भड़का के भाजपा अपने पक्ष में लाना चाहती। कांग्रेस की सरकार को तोड़ना इनका मकसद है। उन्होंने कहा कि सीबीआई, ईडी प्रशासन की जो क्षमता इनके पास है उसका दुरुपयोग करके ये कांग्रेस पार्टी को नेस्तनाबूद करने की साजिश काफी समय से कर रहे हैं।
  • कांग्रेस सांसद विवेक तन्खा ने कहा असंतोष के कारण हुआ ऐसा

    कांग्रेस सांसद विवेक तन्खा ने कहा कि असंतोष के कारण ऐसा हो रहा है। समय आ गया है असंतोष दूर करने का। पार्टी आलाकमान बड़े कमद उठा सकता है। उन्होंने कहा कि अलग से पीसीसी अध्यक्ष होता तो ऐसे हालात नहीं बनते। हमें पहले से ऐसी जानकारी थी कि भाजपा ऐसी कोशिश करेगी।
  • भाजपा प्रवक्ता ने कहा- क्या विधायक अपनी मर्जी से कहीं नहीं जा सकते

    मध्य प्रदेश भाजपा प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कांग्रेस द्वारा विधायकों के किसी होटल में जाने पर हायतौबा मचाने वालों को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कांग्रेस से सवाल किया कि क्या निलंबित विधायक अपनी मर्जी से कहीं जा भी नहीं सकते।
  • दिग्विजय सिंह ने कहा- मध्य प्रदेश की सरकार को कोई खतरा नहीं

    मध्य प्रदेश में भाजपा द्वारा विधयकों के खरीद-फरोख्त का आरोप लगाने वाले दिग्विजय सिंह ने कहा कि हमारी सरकार को कोई खतरा नहीं हैं, हम बस एक हैं। सीएम कमलनाथ आज भोपाल में ही प्रेस से बात करेंगे। उधर मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान इस पूरे मामले के मास्टर माइंड है, अब कई वीडियो और ऑडियो वायरल हो चुके हैं, जो सारे घटनाक्रम में उनका रोल जाहिर करते हैं। मध्य प्रदेश की सरकार को कोई खतरा नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा लोकतंत्र की हत्या करना चाहती है। मोदी जी दूसरे तरह की राजनीति की बात करते हैं, क्या यह उसी तरह की राजनीति है। विधायकों को 50 से 60 करोड रुपए का ऑफर दिया गया है। कुछ विधायक बेंगलुरु में है, लेकिन वे हमारे साथ हैं।

  • भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलेंगे शिवराज सिंह चौहान

    मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान आज दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करेंगे। वे मध्य प्रदेश के ताजा राजनीतिक हालात पर उनसे चर्चा करेंगे। उधर दिग्विजय सिंह के विधायकों को खरीदने के आरोप पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि, मुझे लगता है खिसयानी बिल्ली खंभा नोचे। वो तोड़-फोड़, जुगाड़, जोड़-तोड़ करने में सबसे ज्यादा माहिर हैं, अब वो उल्टे आरोप लगा रहे हैं। तो मध्य प्रदेश के हालात पर 'उल्टा चोर कोतवाल को डांटे कह सकते हैं'।
  • मध्य प्रदेश के विधायक हरियाणा के होटल में

    तावडू (नूंह, हरियाणा) में स्थित आईटीसी ग्रैंड भारत होटल में आए मध्यप्रदेश के आठ कांग्रेसी विधायकों में से छह विधायक दिल्ली चले गए जबकि चार विधायक अभी भी होटल में रुके हुए हैं। कहा जा रहा है कि भाजपा नेता इन विधायकों को लेकर होटल आए थे। हलाकि भाजपा की ओर से मना किया जा रहा है। देर रात कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह व मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री जीतू पटवारी व जयवर्धन छह विधायक को लेकर दिल्ली चले गए थे, जबकि दो कांग्रेसी विधायक होटल में मौजूद हैं उनके साथ निर्दलीय विधायक भी हैं। देर रात नूंह पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंचे थे, जिन्होंने शोर शराबे की बनी स्थिति को नियंत्रण किया। फिलहाल होटल के बाहर पुलिस तैनात हैं, खुफ़िया विभाग भी पल-पल की खबर ले रहा है।
  • वीडी शर्मा ने कहा- कमलनाथ सरकार अंतर्कलह से जूझ रही है

    दिल्ली में मध्य प्रदेश के विधायकों को लेकर चल रही जोड़-तोड़ के घटनाक्रम पर वीडी शर्मा ने कहा कि भाजपा का इससे कोई लेना देना नहीं है। कमलनाथ की अपनी दुनिया है, उनकी सरकार अंतर्कलह से जूझ रही है। विधानसभा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा मुझे इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है। भाजपा खरीद-फरोख्त नहीं करती है। पूरा देश जानता है कि कमलनाथ की सरकार जोड़-तोड़ से चल रही है।
  • भोपाल में सीएम हाउस पहुंचे कांग्रेस विधायक

    हॉर्स ट्रेडिंग पर सोमवार सुबह भोपाल में सीएम कमलनाथ के आवास पर अचानक कांग्रेस विधायकों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। जानकारी के मुताबिक सभी विधायकों बुलाकर उनसे पूछा जा रहा है कि कहीं उन्हें भी तो खरीदने की कोशिश नहीं की गई। सभी कांग्रेस नेता यह दावा कर रहे हैं कि कमलनाथ सरकार को कोई खतरा नहीं हैं। उधर कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने कहा कि अमित शाह, शिवराज सिंह चौहान, नरोत्तम मिश्रा का गेम प्लान था। दिग्विजय सिंह को पल-पल की खबर थी। सभी विधायक पार्टी के सम्पर्क में हैं, सभी की घर वापसी होगी।
Powered by Blogger.