REWA : संजय गाँधी में कोरोना के लिए तीसरी-चौथी मंजिल आरक्षित, अब तक 7 की रिपोर्ट निगेटिव


रीवा. एसजीएमएच व अन्य अस्प्तालों में इमर्जेंसी को छोड़ नए मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा। सामान्य सर्दी, जुकाम व बुखार के मरीजों के लिए अस्पताल के बाहर अस्थाई ओपीडी शुरू कर दी गई है। कोरोना की व्यवस्था को लेकर एसजीएमएच में तीसरी और चौथी मंजिल को आरक्षित कर दिया गया है। अस्पताल में आइसीयू व गंभीर रोगी वार्ड में 10 फीसदी से भी कम मरीज बचे हैं। इसके अलावा पूरा अस्पताल खाली हो गया है। परिसर से लेकर वार्ड में सन्नाटा पसरा हुआ है।

छह वेंटीलेटर के साथ ही आइसोलेशन वार्ड बनाया गया
एसजीएमएच में कोरोना नोडल डॉ. मनोज इंदुलकर ने बताया कि अस्पताल के तीसरी व चौथी मंजिल को कोरोना के लिए आरक्षित कर दिया गया है। छह वेंटीलेटर के साथ ही आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। तीसरी मंजिल से मेडिसिल आइसीयू को शिफ्टकर दूसरी मंजिल पर बनाया गया है। दूसरी मंजिल पर ही हार्ट के मरीजों को भर्ती किया जा रहा है। वर्तमान समय में आधा दर्जन मरीजों का इलाज चल रहा है। सर्जरी आइसीयू को प्रथम तल पर शिफ्ट कर दिया गया है। इमर्जेंसी को छोड़ नए मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा है। ओपीडी को बीते दिन से अस्पताल तिराहे पर शुरू किया गया है। अस्थाई ओपीडी में बुखार, जुकाम, सर्दी आदि के मरीजों का स्वास्थ्य चेकअप किया जा रहा है। पहले दिन 90, दूसरे दिन शनिवार को 110 मरीजों का पंजीयन हुआ है। जिसमें दो को भर्ती कराया गया है। रविवार को भी ओपीडी चली। करीब १०० लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। सभी को कोरोना से बचाने के लिए समझाइश दी गई।
Powered by Blogger.