REWA : कमिश्नर पहुंचे इस तहसील, एसडीएम-तहसीलदार गायब, नायब को शोकाज, बाबू निलंबित


रीवा. कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में स्थित सतना जिले के रामपुर बाघेलान तहसील का निरीक्षण किया। इस दौरान कार्यालय में एसडीएम, तहसीलदार सहित कई जिम्मेदार अधिकारी गायब मिले। कमिश्नर ने एसडीएम, तहसीलदार को कड़ी फटकार लगाई। कमिश्नर ने नायब तहसीलदार को शोकॉज के साथ बाबू को निलंबित करने का आदेश दिया है।

दोपहर 12 बजे ही तहसील से अफसर गायब
कमिश्नर दोपहर 12 बजे तहसील कार्यालय में पहुंचते ही तहसील के कर्मचारियों में हडक़ंप मच गया। कार्यालय में एसडीएमए तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार सहित कोई भी जिम्मेदार राजस्व अधिकारी कार्यालय में मौजूद नहीं था। कार्यालय के कर्मचारियों ने जब कमिश्नर के आने की सूचना दी तब एक-एक करके एसडीएम, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार उपस्थित हुए।

कमिश्नर ने भ्रमण डायरी खंगाली
कमिश्नर ने एसडीएमए तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार से भ्रमण डायरी की जानकारी ली तो कोई भी अधिकारी अपनी भ्रमण डायरी प्रस्तुत नहीं कर सका। मौके पर किसी भी अधिकारी की भ्रमण डायरी संधारित नहीं पाई गई। इस पर कमिश्नर ने एसडीएम संस्कृति शर्मा एवं तहसीलदार सविता यादव पर कड़ी फटकार लगाई। वहीं नायब तहसीलदार नागेन्द्र त्रिपाठी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी राजस्व अधिकारी अपनी भ्रमण डायरी जरूर संधारित करें। कश्मिनर ने जनसुनवाई का कार्य देख रहे लापरवाह बाबू राम प्रसाद द्विवेदी को निलंबित करने के निर्देश दिए।

पटवारियों की सेवा पुस्तिका भी देखी
कमिश्नर ने पटवारियों की सेवा पुस्तिकाओं का भी अवलोकन किया। अवलोकन के दौरान पटवारी उत्तम सिंह की सेवा पुस्तिका में तहसीलदार द्वारा जन्म तिथि प्रमाणित नहीं पाई गई एवं जन्म तिथि लिखे जाने के स्थान पर सेलो टेप लगा हुआ नहीं पाया गया। उन्होंने सीएम हेल्पलाइन पंजी, राजस्व प्रकरणों की पंजी, उपस्थिति पंजीए, राहत राशि के प्रकरणों की पंजी आदि का जायजा लिया।
Powered by Blogger.