REWA : कोरोना वायरस : सैकड़ों की तादात में कोचिंग सेंटर : स्कूल, कॉलेज में छुट्टी कोचिंग सेंटर पर नजर नहीं


रीवा। कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन ने आधी-अधूरी तैयारी की है। भले ही स्कूल, कॉलेज में छुट्टी कर दी गई हो मगर छात्र अभी भी सैकड़ों की तादात में कोचिंग सेंटर में बैठते हैं। दरअसल कवायद यह की जा रही है कि लोग बिना जरूरत के कहीं इकट्ठा न हों। ऐसा तो नहीं है कि सिर्फ स्कूल, कॉलेज में ही लोग एकत्रित होते हैं। कोचिंग सेंटर को बंद करने के लिए जिला प्रशासन ने अब तक कोई आदेश नहीं जारी किया है और न ही संचालकों ने अपने स्वविवेक से इस संक्रमण से बचाव के लिए कोचिंग बंद की।

जबलपुर सहित अन्य जिलों के प्रशासन ने सभी कोचिंग सेंटर को बंद रखने के आदेश जारी कर दिए हैं। गौरतलब है कि जिले और खासतौर पर शहर में दो सौ से अधिक कोचिंग सेंटर संचालित हैं जहां भारी संख्या में रोजाना छात्र बैठकर पढ़ाई करते हैं। मगर इन्हें बंद करने के लिए अब तक कोई आदेश जारी नहीं किया गया। हालांकि जिला प्रशासन का कहना है कि इस मामले में भी जल्द एडवाइजरी जारी की जाएगी।

ब्रिटिश नागरिकों का स्वास्थ्य विभाग ने किया चेकअप

खजुराहो से होते हुए सात ब्रिटिश नागरिक हाल ही में रीवा भ्रमण के लिए पहुंचे थे। जिला प्रशासन ने नगरवासियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए तुरंत स्वास्थ्य विभाग अमले को पर्यटक की जांच करने के निर्देश दिए और संबंधित थाना क्षेत्र में भी सूचना भिजवाई। होटल राजविलास में ठहरे ब्रिटिश पर्यटकों का स्वास्थ्य विभाग ने चेकअप किया। जिनमें कोरोना के एक भी लक्षण नहीं पाए गए। ऐसा बताया गया है कि यह टूरिस्ट कल रीवा से रवाना हो जाएंगे।

हर जगह नहीं कर सकते भीड़ नियंत्रित

जिला प्रशासन ने अपनी तरफ से आदेश जारी कर रहा है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सबसे पहला कदम यही है कि बिना जरूरत के भीड़ इकट्ठा न हो मगर सिर्फ स्कूल, कॉलेज, कोचिंग बंद कर देने से भीड़ पर नियंत्रण नहीं लाया जा सकता। बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन, शॉपिंग काम्पलेक्स, सरकारी दफ्तर जैसी कई जगहें हैं जहां बिना जाए काम पूरा नहीं हो सकता। इस स्थिति में आमजन को खुद से ही सतर्कता बरतने की जरूरत है।

ब्रिटिश टूरिस्ट के आने की सूचना मुझे मिली है। मैंने स्वास्थ्य विभाग को उन सभी विदेशी नागरिकों की जांच करने को कहा है।  कोचिंग संस्थानों को बंद करने के विषय पर विचार चल रहा है, जल्द ही इस संबंध में दिशा निर्देश जारी होंगे।
बसंत कुर्रे, कलेक्टर 
Powered by Blogger.