कोराना वायरस की वजह से यात्री संख्या कम होने पर आठ ट्रेनें निरस्त | TRAIN CANCEL


रतलाम। पश्चिम रेलवे ने रतलाम मंडल से गुजरने वाली आठ ट्रेनें कोरोना वायरस की वजह से यात्री संख्या कम होने पर निरस्त की हैं। ट्रेन संख्या 12227 मुंबई सेंट्रल-इंदौर दुरंतो एक्सप्रेस को 21 से 26 मार्च तक निरस्त किया गया है, वहीं ट्रेन संख्या 12228 इंदौर-मुंबई सेंट्रल दुरंतो एक्सप्रेस 23 से 29 मार्च को निरस्त की गई है। इसी तरह मुंबई से चलने वाली ट्रेन संख्या 12239 मुंबई-जयपुर दुरंतो एक्सप्रेस 22 से 31 मार्च तक निरस्त की है। ट्रेन संख्या 12240 जयपुर-मुंबई सेंट्रल 24 मार्च से 2 अप्रैल तक, ट्रेन संख्या 22209 मुंबई सेंट्रल-नई दिल्ली 23 से 30 मार्च तक, ट्रेन संख्या 22210 नई दिल्ली-मुंबई सेंट्रल दुरंतो एक्सप्रेस 21 से 31 मार्च तक, ट्रेन संख्या 19317 इंदौर-पुरी हमसफर एक्सप्रेस 24 से 31 मार्च तक तथा ट्रेन संख्या 19318 पुरी-इंदौर हमसफर एक्सप्रेस को 25 मार्च से 1 अप्रैल तक निरस्त किया है।

प्लेटफॉर्म टिकट 50 रुपये करते ही स्टेशनों से छंटी भीड़
कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए रेलवे स्टेशन से अनावश्यक भीड़ कम करने के लिए रतलाम मंडल ने प्लेटफॉर्म टिकट 10 रुपये से बढ़ाकर 50 रुपये कर दिया है। रतलाम मंडल के अधीन 100 स्टेशनों में यह आदेश सोमवार रात लगभग एक बजे से लागू कर दिया है। पहले ही दिन मंगलवार को इसका व्यापक असर देखने को मिला। रतलाम रेलवे स्टेशन में जहां रोजाना करीब 3000 प्लेटफॉर्म टिकट बिकते थे, मंगलवार को 145 ही बिके। वहीं इंदौर में 4000 की जगह सिर्फ 700 प्लेटफॉर्म टिकट ही बिके। पश्चिम रेलवे के छह मंडल में से रतलाम में सबसे पहले यह प्रयोग किया गया।
बेहतर परिणाम आते ही मंगलवार को इसे अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, भावनगर में भी इसे लागू कर दिया गया। इंदौर में हुई बैठक में संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने कहा कि रेलवे स्टेशन परिसर में अनाधिकृत और अनावश्यक प्रवेश पर कड़ी निगरानी रखी जाए। जिन राज्यों में बीमारी का प्रकोप है वहां से ट्रेन में आने वाले यात्रियों की भी स्क्रीनिंग हो। इंदौर में ट्रेनों के लगभग 900 कोच हैं, जिन पर अब सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।
रेल मंडल, रतलाम के डीआरएम विनीत गुप्ता ने बताया कि पश्चिम रेलवे में रतलाम मंडल में सबसे पहले प्लेटफॉर्म टिकट की दर बढ़ाने का फैसला लिया गया। आज पूरे जोन में लागू कर दिया गया। पहले दिन सकारात्मक परिणाम देखने को मिला। ट्रेनों के परिचालन निरस्त करने का फैसला मुख्यालय या बोर्ड स्तर करेगा।

Powered by Blogger.