शिवराज कैबिनेट की अटकलें तेज, दावेदार अधिक होने के कारण पार्टी की कशमकश बढ़ी, सिंधिया खेमे के 8 नेताओं को मिलेगी जगह : 22 नेता ले सकते हैं शपथ


भोपाल. मध्यप्रदेश में कैबिनेट विस्तार को लेकर अटकलें फिर से तेज हो गई हैं। कहा जा रहा है कि 31 मई से पहले मध्यप्रदेश में शिवराज कैबिनेट का विस्तार हो सकता है। कैबिनेट विस्तार की मुहर केन्द्रीय नेतृत्व लगाएगा जिसके लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान दिल्ली जा सकते हैं।

सीएम शिवराज सिंह चौहान 25 या 26 मई को दिल्ली जा सकते हैं। वे यहां केन्द्रीय नेतृत्व से चर्चा कर 31 मई के पहले कैबिनेट विस्तार कर सकते हैं। चर्चा है कि सीएम ने मंत्रिमंडल विस्तार के लिए सूची तैयार कर ली है। अब केन्द्रीय नेतृत्व की मुहर का इंतजार है। विस्तार में 20 से 22 मंत्रियों को शपथ दिलाई जा सकती है। जिसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के 8 नेताओं के नाम तय हैं। सिंधिया खेमे के नेताओं को मंत्रिमंडल में शामिल करने और भाजपा में दावेदार अधिक होने के कारण पार्टी की कशमकश बढ़ गई है। सीएम शिवराज सिंह चौहान बीते तीन दिनों से लगातार प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के साथ इस मामले में मंत्रणा कर रहे हैं।

सिंधिया खेमे के नेताओं से मुलाकात
कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे इमरती देवी और प्रद्युमन सिंह तोमर ने शनिवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की। उधर प्रभुराम चौधरी भी प्रदेश भाजपा कार्यालय में सीएम से मिले। सूत्रों के मुताबिक इन तीनों नेताओं ने अपने पसंद के विभाग की बात भी सीएम के सामने रखी है। पूर्व मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया ने गुरुवार को सीएम शिवराज से मुलाकात की थी। बता दें कि प्रदेश की 24 सीटों पर उपचुनाव होना है। इन उपचुनावों को ध्यान में रखते हुए मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा।


Powered by Blogger.