COVID-19 : विंध्य के इस जिले में कोरोना संक्रमण के मिले सात केस, एक की मौत

सतना. विंध्य क्षेत्र के सतना जिले में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। मंगलवार रात आई रिपोर्ट में 2 नए मरीजों में इस वायरस की पुष्टि की गई। इसे मिलाकर सतना में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर पांच से सात हो गई है। पहला केस हीरा सिंह खम्हरिया तहसील कोटर के रूप में पहला केस मिला। जिसकी संजय गांधी मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई।
वहीं दूसरा केस नरेन्द्र कुशवाहा निवासी घोरकाट तहसील कोटर और थाना बिरसिंहपुर पाजिटिव मिला। इसी तरह तीसरा केस उमाशंकर कुशवाहा निवासी घोरकाट तहसील कोटर और थाना बिरसिंहपुर, चौथा रंजीत पटेल निवासी रैकवार अमरपाटन, पांचवा हेतराम पटेल निवासी भीषमपुर अमरपाटन, छठवां कोदूलाल विश्वकर्मा निवासी मसमासी रामनगर और सांतवां केस हंशराज साकेत निवासी गौरैया कला मैहर शामिल है।
ऐसे आए कोरोना के पाजिटिव केस
1. हीरा सिंह निवासी खम्हरिया तहसील कोटर
2.
नरेन्द्र कुशवाहा निवासी घोरकाट तहसील कोटर थाना बिरसिंहपुर
3.
उमाशंकर कुशवाहा निवासी घोरकाट तहसील कोटर थाना बिरसिंहपुर
4.
रंजीत पटेल निवासी रैकवार अमरपाटन
5.
हेतराम पटेल निवासी भीषमपुर अमरपाटन
6.
कोदूलाल विश्वकर्मा निवासी मसमासी रामनगर
7.
हंशराज साकेत निवासी गौरैया कला मैहर
रामगर का पहला पाजिटिव केस
बता दें कि रामनगर के मसमासी का रहने वाला कोदूलाल विश्वकर्मा (60) सागर के कड़ोदरा में चौकीदारी करता था। वह सूरत से श्रमिकों को सतना लेकर आ रही बस से पहुंचा था। कोदूलाल सागर से बस में सवार हुआ था। इसमें कोरोना पॉजिटिव पाए गए रैकवार निवासी रंजीत पटेल और भीष्मपुर निवासी हेतराम पटेल भी सवार थे। कोदूलाल अमरपाटन पहुंचने के बाद अपने गांव मसमासी स्थित घर चला गया था। उसने अधिकारियों को बताया कि वह घर में किसी के भी संपर्क में नहीं था। हालांकि रंजीत की कांटेक्ट ट्रेसिंग में कोदूलाल का पहले ही नाम सामने आया था। इसके बाद कोदूलाल को शासकीय उत्कृ ष्ट विद्यालय रामनगर में क्वारंटीन कर दिया गया था। उसका सैंपल लेकर जांच के लिए मेडिकल कॉलेज रीवा भेजा गया था।
मुम्बई से मैहर आया युवक 
मैहर के गौरैया कला निवासी 40 वर्षीय हंसराज साकेत अपने दो अन्य दोस्तों के साथ मुंबई से मैहर के लिए पैदल ही रवाना हुआ। कुछ देर बाद इन्हें ट्रक मिल गया। उसमें सवार होकर कुछ दूर तक पहुंचे। इस तरह पैदल और अन्य वाहनों में लिफ्ट लेकर बुरहानपुर तक पहुंचे। बुरहानपुर से बस में सवार होकर 9 मई को मैहर पहुंचे। प्रशासन द्वारा तीनों युवकों को सरला नगर मैहर के बारात घर में क्वारंटीन कर दिया गया। हॉट स्पॉट से लौटने के कारण चिकित्सकों द्वारा 11 मई को हंसराज का एहतियातन सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया था।



Powered by Blogger.