MP के इन जिलों में आज से खुलेंगी शराब की दुकानें ,जानिए कहां खुली, कहां रहेंगी बंद


भोपाल. देश में तीसरे चरण का लॉकडाउन का आज दूसरा दिन है। मध्यप्रदेश वाणिज्यकर विभाग ने प्रदेश में शराब की दुकान खोलने को लेकर सोमवार को एक ऑर्डर जारी किया था। इस ऑर्डर के अनुसार, मध्यप्रदेश में शराब की दुकानें आज (5 मई) से खुलेंगी। हालांकि रेड जोन में शामिल भोपाल, इंदौर और उज्जैन में आगामी आदेश तक शराब की दुकानें बंद रहेंगी। सभी लायसेंसियों को निर्देशित किया गया है कि वे दुकानों पर गृह मंत्रालय, भारत सरकार तथा वाणिज्यिक कर विभाग मध्यप्रदेश शासन द्वारा जारी एसओपी और दो गज की दूरी का पालन भी सुनिश्चित करें।

इन जिलों में आज से खुलेंगी शराब की दुकानें, तीन जिलों में प्रशासन सख्त- नहीं होगी मदिरा की बिक्री

कहां-कहां खुलेंगी दुकानें, कहां रहेंगी बंद

1.प्रदेश में में रेड जोन में आने वाले भोपाल, इंदौर और उज्जैन जिले में मदिरा एवं भांग की समस्त दुकानें आगामी आदेश तक बंद रहेंगी।

2. रेड जोन के अन्य जिले जबलपुर, धार, बड़वानी, खंडवा, देवास और ग्वालियर जिलों की मुख्यालय की शहरी क्षेत्रों की दुकानों को छोड़कर अन्य क्षेत्रों की मदिरा एवं भांग की दुकानों का संचालन किया जाएगा। 

3.ऑरेंज जोन के अंतगर्त आने वाले जिले खरगौन, रायसेन, होशंगाबाद, रतलाम, आगर-मालवा, मंदसौर, सागर, अलीराजपुर, टीकमगढ़, शहडोल, श्योपुर, डिंडौरी, बुरहानपुर, हरदा, बैतूल, विदिशा, मुरैना और रीवा के कंटेनमेंट एरिया को  छोड़कर शेष मदिरा एवं भांग दुकानें संचालित की जाएं। 

4. ग्रीन जोन अंतर्गत आने वाले सभी मदिरा एवं भांग की दुकानों का संचालन प्रारंभ किया जाएगा।

ग्रीन जोन में कौन से जिले
राजगढ़, अनूपपुर, उमरिया, सीधी, सिंगरौली, बालाघाट, मंडला, कटनी, निवाड़ी, छतरपुर, पन्ना, दमोह, सीहोर, झाबुआ, नीमच, दतिया, भिंड, अशोकनगर, गुना, सतना, सिवनी, नरसिंहपुर और शिवपुरी जिले ग्रीन जोन में शामिल हैं।

इंदौर में सख्ती
हॉटस्पॉट में शामिल इं‌दौर में प्रशासन अलर्ट है। लॉकडाउन-3 में अधिक छूट देने के बजाय सख्ती कर कोरोना की चेन तोड़ने और औद्योगिक गतिविधि शुरू करने पर जोर है। प्रशासन ने कंटेनमेंट एरिया में सख्ती और बाहर रियायत को भी खतरनाक माना है इसलिए पूरे शहर में ही एक जैसी सख्ती लागू रहेगी। कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि स्थिति पहले से 80 फीसदी नियंत्रण में आ गई है, लेकिन अभी 15 दिन तक सख्ती जरूरी है।


Powered by Blogger.