PANNA : पन्ना में मिला कोरोना पॉजिटिव, पहला मामला


पन्ना। मध्यप्रदेश में शनिवार का दिन राहत भरा रहा। पन्ना को छोड़कर भोपाल सहित कई जिलों में कोरोना संक्रमित मरीज नहीं मिलने से लोगों ने राहत की सांस ली। केंद्र सरकार की पहल के बाद अलग-अलग राज्यों में फंसे मजदूरों और अन्य लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं।
मध्य प्रदेश के मजदूरों को लेकर नासिक से ट्रेन भोपाल के पास स्थित मिसरोद रेलवे स्टेशन पहुंची। पहली खेप में 347 मजदूर आए हैं। इन सभी को सोशल डिस्टेंसिंग के तहत रेलवे स्टेशन पर गोले बनाकर बैठाया गया। इसके बाद एक-एक कर सभी का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इसके बाद सभी मजदूरों को उनके घरों तक बसों से रवाना कर दिया गया।
मुम्बई से 30 अप्रैल को आया था पन्ना, क्वारेंटाइन सेंटर बनौली में पहुंची टीम
पन्ना में भी शनिवार को कोरोना पॉजिटिव पहले मरीज की  पुष्टि हुई है। अबतक ग्रीन जोन में रहे पन्ना में संक्रमित मरीज नहीं मिला था।  देर शाम जब प्रशासन को संदिग्ध लोगों के जांच सेंपलों की रिर्पोर्ट मिली तो पता चला।  इसके बाद कलेक्टर कर्मवीर शर्मा सहित मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. एलके तिवारी ने संबंधित पीड़ित व्यक्ति को क्वारिंटाईन सेंटर से अस्पताल शिफ्ट कराने बनौली के लिए रवाना हुए।
जानकारी के मुताबिक पॉजिटिव आया व्यक्ति अजयगढ़ तहसील क्षेत्र के ग्राम हरदी का रहने वाला है। जो 30 अप्रैल को मुम्बई से आया था। सिमरिया में उसे क्वारिंटाईन किया गया। सेंपल भी लिया गया था। बाद में बनौली के क्वारिंटाईन सेंटर में रखा गया था। उसकी पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर अस्पताल में उपचार हेतु शिफ्ट किया जा रहा है। खबर लिखे जाने तक प्रशसनिक अमला बनौली पहुंच चुका था। इस कोरंटाईन सेंटर में 50 लोग और भी हैं। ऐसे में प्रशासन पॉजिटिव मरीज को को अलग करने में जुटा है ।
बीएमओ पवई डा.ओम हरि शर्मा ने बताया कि क्वारिंटाईन व्यक्ति की रिर्पोट पॉजिटिव आई है। लोग ग्रीन जोन में होने के कारण और अधिक रियायत मिलने की उम्मीद लगा रहे थे, अब शायद न मिले।
Powered by Blogger.