REWA : दर्दनाक : 2 साल की मासूम की गला दबा कर हत्या


रीवा. एक तरफ पूरी दुनिया वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण से जूझ रही है। इस दौर में जब लोगों को मानवता का पाठ पढाया जा रहा है, मऊगंज के पटेहरा में एक सनसनीखेज वारदात ने सबको हैरत में डाल दिया है। यहां एक दो साल की मासूम बच्ची की गला दबा कर हत्या कर दी गई।

मऊगंज के पटेहरा की इस रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना से हर कोई विचलित है। जानकारी के मुताबिक दो साल की मासूम की गला दबा कर हत्या करने के बाद उसके शव को कमरे के अंदर छिपा दिया गया था। इस मामले में परिवर के ही कुछ लोगों पर हत्या की आशंका जताई जा रही है।

घटना के बाबत बताया जा रहा है कि मऊगंज के पटेहरा गांव निवासी आशी पटेल, पिता प्रमोद पेटेल शनिवार की सुबह करीब 10 बजे के आसपास घर के पास खेल रही थी। जैसे ही उसकी मां अपने काम में व्यस्त हुई, उसी दौरान बच्ची गायब ह गई। मां जब बाहर निकली तो बच्ची न पाकर परेशान हो गई। धीरे-धीर इसकी सूचना पूरे गांव में फेल गई। हर कोई मासूम की तलाश में जुट गया। काफी देर तक तलाश करने के बाद भी जब बच्ची का कोई सुराग न लगा तो लोगो ने परिजनों के साथ दोपहर बाद थाने पहुंच कर पुलिस को घटना की सूचना दी।

सूचना पर पुलिस ने अपहरण का मुकदमा दर्ज किया और तत्काल मौके पर पहुंची। पुलिस बच्ची की तला कर रही थी कि शाम करीब 5 बजे उनके परिवार के ही एक व्यक्ति के घर में बच्ची का शव बरामद हुआ। शव को भूसे के ढेर में छिपाया गया था। पुलिस ने उसे बाहर निकलवाया। बच्ची के गले पर अंगूठे के निशान थे जिससे आशंका जताई जा रही है कि गला दबा कर उसकी हत्या की गई है। उसके बाद भूसे वाले कमरे में ले जाकर शव को छिपा दिया गया। पुलिस ने घटना स्थल से साक्ष्य एकत्र किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
लेकिन दो साल की मासूम की हत्या का कारण अभी तक पता नहीं चल सका है। हर कोई हैरान है कि मासूम की हत्या से किसी को क्या मिलेगा। मासूम से किसी को क्या रंजिश हो सकती है।
Powered by Blogger.