SATNA में कोरोना मरीजों संख्या हुई सात, देररात आई रिपोर्ट से बढ़ी टेंशन


सतना. जिले में कोरोना वायरस के संक्रमित रोगियों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। मंगलवार देररात भी दो लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अब कोरोना पॉजिटिव रोगियों की संख्या पांच से बढ़कर सात हो गई। एक पीडि़त रामनगर के मसमासी का रहने वाला है तो मैहर के गौरैयाकला का। मसमासी का पीडि़त कोरोना पॉजिटिव रंजीत के संपर्क में था। गौरैया का युवक मुम्बई से लौटा था। दोनों को पहले ही क्वारंटीन कर दिया गया था।

रामनगर के मसमासी का रहने वाला कोदूलाल विश्वकर्मा (60) सागर के कड़ोदरा में चौकीदारी करता था। वह सूरत से श्रमिकों को सतना लेकर आ रही बस से पहुंचा था। कोदूलाल सागर से बस में सवार हुआ था। इसमें कोरोना पॉजिटिव पाए गए रैकवार निवासी रंजीत पटेल और भीष्मपुर निवासी हेतराम पटेल भी सवार थे। कोदूलाल अमरपाटन पहुंचने के बाद अपने गांव मसमासी स्थित घर चला गया था। 

उसने अधिकारियों को बताया कि वह घर में किसी के भी संपर्क में नहीं था। हालांकि रंजीत की कांटेक्ट ट्रेसिंग में कोदूलाल का पहले ही नाम सामने आया था। इसके बाद कोदूलाल को शासकीय उत्कृ ष्ट विद्यालय रामनगर में क्वारंटीन कर दिया गया था। उसका सैंपल लेकर जांच के लिए मेडिकल कॉलेज रीवा भेजा गया था।

मुम्बई से आया युवक भी निकला संक्रमित

मैहर के गौरैया कला निवासी ४० वर्षीय हंसराज साकेत अपने दो अन्य दोस्तों के साथ मम्ुबई से मैहर के लिए पैदल ही रवाना हुआ। कुछ देर बाद इन्हें ट्रक मिल गया। उसमें सवार होकर कुछ दूर तक पहुंचे। इस तरह पैदल और अन्य वाहनों में लिफ्ट लेकर बुरहानपुर तक पहुंचे। बुरहानपुर से बस में सवार होकर ९ मई को मैहर पहुंचे। प्रशासन द्वारा तीनों युवकों को सरला नगर मैहर के बारात घर में क्वारंटीन कर दिया गया। हॉट स्पॉट से लौटने के कारण चिकित्सकों द्वारा ११ मई को हंसराज का एहतियातन सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया था।

देररात कोदूलाल की जानकारी से चकराए अधिकारी

मंगलवार देर रात हंसराज की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य अधिकारी कांटेक्ट और ट्रेवल हिस्ट्री खंगालने मसमासी निवासी कोदूलाल के पास क्वारंटीन सेंटर पहुंचे। कोदू के यह कहते ही स्वास्थ्य अधिकारी चकरा गए कि वह किसी रंजीत पटेल, हेतराम पटेल को नहीं जानता है। न ही उनके साथ अमरपाटन तक आया है। वह प्राइवेट बस में सागर से बैठा था। उसके साथ ब्यौहारी का एक व्यक्ति बैठा था, जो कटनी चेकपोस्ट पर उतर गया था। इसके बाद वह अपनी सीट पर अकेला बैठकर अमरपाटन तक आया। अमरपाटन से ऑटो में बैठकर वह रामनगर तक पहुंचा। उसके साथ ऑटो में एक व्यक्ति और बैठा था जो कि जिगना जाने की बात कर रहा था। इसके बाद वह रामनगर से मसमासी तक पैदल आया। प्रशासन अब जिगना और ब्यौहारी के उस व्यक्ति की तलाश में जुट गया है। कोदू से सुबह एक बार फिर से पूछताछ की जाएगी।

Powered by Blogger.