SIDHI : क्वारंटीन सेंटर से भाग गए थे पांच श्रमिक, पुलिस ने पकड़कर वापस लाया


सीधी/टमसार। राज्य के बाहर से आने वाले श्रमिकों को प्रशासन द्वारा क्वारंटीन सेंटर ले जाकर स्वास्थ परीक्षण किया जाकर आवश्यक समझे जाने पर क्वारंटीन सेंटर में भर्ती किया जाता है नहीं तो होम क्वारंटीन कर दिया जाता है। इसी क्रम में गुजरात राज्य के सूरत से आने वाले एक दर्जन श्रमिकों को कुसमी जनपद के टमसार सेंटर में चार दिन पूर्व स्वास्थ परीक्षण के लिए ले जाया गया था, लेकिन वहां से परीक्षण के पूर्व ही पांच श्रमिक अपने गृहग्राम भाग गए, जब सेंटर में श्रमिकों की गणना की गई तो पांच श्रमिक कम पाए जाने पर उनकी पहचान एवं तलाश शुरू की गई। परीक्षण पर पता चला कि नजदीकी ग्राम गुडुआधार के 4 तथा एक भदौरा गांव का प्रवासी श्रमिक था, जो सूरत से आए थे, वरिष्ठ अधिकारियों की मदद से तत्काल पुलिस टीम भेजकर उक्त चारों श्रमिकों उनके घर से पकड़कर लाया गया, और क्वारंटाइन सेंटर में स्वास्थ परीक्षण कर उन्हें भर्ती कर दिया गया, जहां तीन दिन तक रखने के बाद उनका स्वास्थ सही पाए जाने पर उन्हें होम क्वारंटीन कर दिया गया है। 

श्रमिकों को लगा की छोड़ दिया गया है इसलिए चले गए थे
जिस समय गुजरात राज्य के श्रमिकों को क्वारंटीन सेंटर में लाकर उनका स्वास्थ परीक्षण किया जा रहा था उसी समय क्वारंटीन सेंटर से कुछ श्रमिकों का स्वास्थ परीक्षण कर होम क्वारंटीन के लिए छोड़ा जा रहा था, इसी दौरान उक्त पांच श्रमिकों को लगा की उन्हें होम क्वारंटीन किया जा रहा है, इसलिए वह भी छोड़े जाने वाले श्रमिकों के साथ चले गए। परीक्षण में संख्या कम पाए जाने पर उनकी पहचान कर गांव से पुलिस की मदद से पुन: क्वारंटीन सेंटर लाया जाकर उनका स्वास्थ परीक्षण कराया गया और तीन दिन तक रखने के बाद उन्हें होम क्वारंटीन कर दिया गया है। 

आरके सिन्हा, एसडीएम कुसमी

Powered by Blogger.