शर्मनाक : आठ माह की गर्भवती ने 13 घंटे तक 8 अस्पतालों के चक्कर काटने बाद एंबुलेंस में तोड़ा दम


नोएडा। राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में एक शर्मनाक और इंसानियत को झकझोर देना वाला मामला सामना आया है। एक गर्भवती महिला ने एंबुलेंस में अस्पतालों के चक्कर लगाते हुए दम तोड़ दिया। मृतक महिला के परिजनों का आरोप है कि आठ अस्पतालों के चक्कर लगाने के बाद भी उसको इलाज नहीं मिला और उसने एंबुलेंस में ही दम तोड़ दिया। एंबुलेंस में गर्भवती के दम तोड़ने के घटना शुक्रवार की है।

30 साल की नीलम को आठ माह का गर्भ था। उनके पति विजयेंद्र सिंह उनको लेकर अस्पताल रवाना हुए। वह लगातार इलाज के लिए 13 घंटों तक अपनी प्रसव पीड़ा से तड़फती पत्नी को लेकर सड़कों पर भटकते रहे। इस दौरान उन्होंने 8 अस्पतालों के दरवाजे पर दस्तक दी, लेकिन किसी ने भी उनकी सुध नहीं ली और नीलम ने ग्रेटर नोएडा में एंबुलेंस में तड़फते हुए दम तोड़ दिया।

SONALI के चप्पल कांड पर सब इंस्पेक्टर बोली ,आप जज नहीं, मौके पर मै होती तो तुम्हारी औकात दिखा देती : देखें वीडियो

नोएडा के खोड़ा गांव की रहने वाली नीलम का नोएडा के शिवालिक अस्पताल में इलाज चल रहा था। नीलम के पति का आरोप है कि शुक्रवार को इस अस्पताल ने उनको भर्ती करने से मना कर दिया और दूसरे अस्पताल में जाने के लिए कहा। वो सबसे पहले पत्नी नीलम को लेकर ईएसआई अस्पताल गए। उसके बाद घ्क्रक्ष्, फोर्टिस, मैक्स, जेपी और शारदा अस्पताल में भी लेकर गए, लेकिन सभी ने भर्ती करने से इंकार कर दिया और बेड न होने का हवाला दिया। आखिर में क्रक्ष्ग्च् में उनको वेंटिलेटर पर रखा गया, लेकिन इसके पहले नीलम की एंबुलेंस में ही मौत हो चुकी थी। सोशल मीडिया पर वायरल होने और पता चलने पर गौतम बुद्ध नगर के क़्ग् सुहास एल वाय ने जांच के आदेश दे दिए हैं। मामले की जांच ॠक़्ग् मुनिंद्र नाथ उपाध्याय और क्ग्ग्र् दीपक ओहरी करेंगे।

REWA NEWS MEDIA पढ़े ताजा ख़बरें, अभी Like करें और हमसे जुड़ें
रीवा, सिरमौर ,सेमरिया ,मनगवा, देवतलाब, मऊगंज ,गुढ व त्यौथर क्षेत्र की हर खबर सिर्फ  रीवा न्यूज़ मीडिया पर : VISIT NOW : www.Rewanewsmedia.com

Powered by Blogger.