गेंहू खरीदी में बड़ा फर्जीवाड़ा, शासन को 1.32 करोड़ रुपए की लगी चपत , प्रबंधक सहित 3 पर केस दर्ज


जबलपुर. बेलखेड़ा उडऩा मेढ़ी में गेंहू खरीदी में बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया। यहां खरीदी समिति के प्रबंधक, खरीदी प्रभारी और ऑपरेटर ने मिलीभगत कर ई-उपार्जन पर किसानों की फर्जी सूची अंकित कर 685 मैट्रिक टन गेहूं का गोलमाल कर 1.32 करोड़ की चपत लगाई है। पाटन थाने में तीनों के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 470, 34 भादवि का प्रकरण दर्ज किया गया।

पाटन में कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी रांझी निवासी वसुंधरा पेन्ड्रो ने शिकायत दर्ज कराई कि दो जून को जिला विपणन अधिकारी विवेक तिवारी ने खरीदी केंद्र बेलखेड़ा उडऩा मेढ़ी के क्रमांक तीन और चार का निरीक्षण किया था। क्रमांक तीन में 148 मीट्रिक टन और क्रमांक चार में 538 मीट्रिक टन गेहूं कम मिला। इसकी कीमत 1.32 करोड़ रुपए के लगभग है। दोनों खरीदी केंद्रों से भंडारण केन्द्र भेजे गए गेहूं मे से 2574 क्विंटल गेंहू अमानक (रेत, मिट्टी मिक्स) पाया गया। 

समिति प्रबंधक मुन्नालाल बरखेड़ा, केन्द्र प्रभारी रोहित शर्मा और ऑपरेटर अनुज दुबे ने निर्देशों के विपरीत अमानक गेहूं खरीदी कर भंडारण के लिए भेजा। साथ ही ट्रक एमपी 20 जीए 7506 से पुराने बारदाने में मिट्टी और कुसी युक्त गेहूं अन्यत्र स्थान से भरकर लाया गया। उक्त बोरों से गेहूं खरीदकर खरीदी स्थल में ढेर लगाया गया था।

REWA NEWS MEDIA पढ़े ताजा ख़बरें, अभी Like करें और हमसे जुड़ें
रीवा, सिरमौर ,सेमरिया ,मनगवा, देवतलाब, मऊगंज ,गुढ व त्यौथर क्षेत्र की हर खबर सिर्फ  रीवा न्यूज़ मीडिया पर : VISIT NOW : www.rewanewsmedia.com

Powered by Blogger.