CRIME : बेटे-बहू ने वृद्ध मां-बाप को घर से निकाला, एएसपी ने दिए कार्यवाही के निर्देश


सीधी. जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए माता, पिता और गुरु का अहम योगदान होता है। वही माता- पिता, पुत्र को लाड प्यार से पालते हैं तथा अपने बुढ़ापे के सहारा के रूप में देखते हैं। हर मां बाप अपने बच्चों को पाल पोश कर बड़ा करता है, पढ़ाता लिखाता है यह सोच कर कि हमारा बच्चा आगे चलकर कुछ बनेगा और हमारे बुढ़ापे का सहारा होगा, लेकिन सीधी के एक माता पिता को शायद नहीं पता था कि जिस बेटे को खुद भूखे रहकर खिला पिलाकर बड़ा कर रहे हैं वही बेटा एक दिन मारपीट कर घर से निकाल देगा। 

जहां भूखे पेट दरबदर भटकना पड़ेगा। क्या है पूरा मामला बीते शुक्रवार को सुखमंती साकेत पति गणेश साकेत 65 वर्ष निवासी खटोखर (रामपुर) ने अपने बेटे और बहू से न्याय दिलाने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंजूलता पटले से गुहार लगाई है। पीड़ित वृद्ध ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को शिकायती आवेदन देकर गुहार लगायी की वृद्धावस्था में हम दोनों काम करके दोनों टाइम की रोटी खाते हैं इसके बावजूद भी हमारे बेटे और बहू हमारे साथ मारपीट करते हैं। 

पीड़ित वृद्ध द्वारा बताया गया कि पहले तो मारपीट का सिलसिला चलता था जहां लोक लाज के भय से कभी किसी को नहीं बताए लेकिन अब तो हद हो गयी क्योंकि इस वृद्धावस्था में मेरे बेटे और बहू ने मारपीट कर घर से निकाल दिया है जहां आज हम बेघर हो गए हैं। पुलिस अधीक्षक कार्यालय में बिना कपड़ों में पहुंचे वृद्ध की दास्तान सुन वहां पर उपस्थित कर्मचारियों की भी आंखें भर आई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंजू लता पटले ने पीड़ित वृद्ध को घर तक पहुंचाया तथा बेटे और बहू को खिलाफ कार्यवाही करने का आदेश दिए हैं।


Powered by Blogger.