REWA : रीवा शहर में बड़े पैमाने पर पानी की समस्या, भीषण गर्मी में जनता परेशान लोगों का फूटा आक्रोश, कंपनी कर्मचारी के साथ मारपीट : आयुक्त बने बेखबर


रीवा। शहर के बड़े हिस्से में लगातार चौथे दिन पानी की सप्लाई बाधित रही। दो प्रमुख वाटर फिल्टर प्लांट वोल्टेज की कमी के चलते नहीं चल पाए, इस कारण शहर की टंकियां नहीं भर पाई। जिसकी वजह से मोहल्लों में होने वाली पानी की सप्लाई पूरी तरह से बाधित रही। वहीं अजगरहा का फिल्टर प्लांट कुछ समय के लिए चला जिसके कारण उससे संबंधित मोहल्लों में आंशिक रूप से पानी की सप्लाई की गई है।

बीते 28 मई की सायं पांच बजे से शहर की बिजली सप्लाई बाधित रही है। तेज तूफान के कारण मोहल्लों में बिजली सप्लाई बाधित हो गई थी। जिनकी मरम्मत के लिए कई दिन से लगातार बिजली कंपनी का महकमा लगा रहा लेकिन समय पर बिजली व्यवस्था नहीं दे पाए। इस कारण पानी के फिल्टर प्लांट नहीं चल सके। कुठुलिया और रानीतालाब के फिल्टर प्लांट सुबह से ही बंद रहे, जिनमें बिजली की समस्या थी। इसकी शिकायत जब नगर निगम के पेजयल शाखा के अधिकारियों ने बिजली कंपनी से की तो मरम्मत कार्य शुरू कराया गया। घंटों की मशक्कत के बाद भी बिजली की समस्या का पता नहीं लगा पाए। जानकारी मिली है कि देर रात तक पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं भर पाने के कारण टंकियों से सोमवार को भी सुबह सप्लाई ठीक से नहीं हो पाएगी।


सिलपरा से खराबी को सुधारा गया
शहर में कई जगह जांच करने के बाद जब फाल्ट का पता नहीं चला तो बिजली कंपनी के अधिकारियों की टीम सिलपरा पहुंची, जहां से सप्लाई में कुछ तकनीकी खराबी थी। उसमें सुधार कराया गया, जिसके बाद सायं करीब छह बजे से कुठुलिया और रानीतालाब के फिल्टर प्लांटों को बहाल किया गया। पूरे दिन प्लांट बंद रहने के कारण शहर की टंकियां नहीं भर पाई इस कारण नलों के माध्यम से होनी वाली सप्लाई बाधित रही।

टैंकरों से मोहल्लों में भेजा पानी
लगातार चार दिनों से पेयजल सप्लाई बाधित होने से कई मोहल्लों में पानी की बिकराल समस्या उत्पन्न हो गई थी। लगातार निगम अधिकारियों के पास फोन आते रहे। जिसकी वजह से संबंधित मोहल्लों में पानी के टैंकरों को भेजा गया। पानी की मांग इतना अधिक थी कि एक ही जगह पर पूरे टंैकर की जरूरत महसूस की जा रही थी लेकिन सभी को उपलब्ध कराया जा सके इस कारण कम मात्रा में ही पानी दिया गया।

शहर पानी के लिए परेशान, आयुक्त बेखबर
नगर निगम क्षेत्र में बिजली की समस्या के कारण पानी की सप्लाई भी बाधित हुई है। लगातार चार दिनों से मोहल्लों में लोग परेशान हैं। इसकी शिकायतें नगर निगम के प्रभारी आयुक्त अर्पित वर्मा से भी की गई लेकिन उनकी ओर से शिकायतों पर गंभीरता नहीं ली गई। लोगों के फोन ही रिसीव नहीं किए। साथ ही कुछ जनप्रतिनिधियों ने पानी की समस्या से अवगत कराया तो वे बेखबर रहे।

पानी की समस्या पर लोगों का फूटा आक्रोश, कंपनी कर्मचारी के साथ मारपीट
लगातार शहर में पानी की समस्या के चलते अब स्थानीय लोगों का आक्रोश भी फूटने लगा है। शहर में पानी सप्लाई करने सीएमआर कंपनी के कर्मचारियों के साथ गली-गलौज और झूमाझटकी हुई है। अखाड़घाट के पास रानीतालाब फिल्टर प्लांट में स्थानीय लोग पहुंचे और वहां पर मौजूद कर्मचारियों के साथ विवाद किया। इसकी घटना निगम के अधिकारियों को पता चली तो मौके पर पहुंचे और पुलिस को भी बुलाया गया। बताया गया है कि सीएमआर कंपनी के कर्मचारियों ने कहा है कि इस तरह से मारपीट होगी तो वह पानी की सप्लाई का काम रोक देंगे। निगम के अधिकारियों ने कहा है कि मामला सुलझा लिया गया है, पानी सप्लाई पर कोई असर नहीं होगा।


REWA NEWS MEDIA के सोशल साइट्स पर जुड़े और
पढ़े ताजा ख़बरें, अभी Like करें और हमसे जुड़ें

FACEBOOK PAGE , TWITTER , INSTAGRAM , FACEBOOK
रीवा, सिरमौर ,सेमरिया ,मनगवा, देवतलाब, मऊगंज ,गुढ व त्यौथर क्षेत्र की हर खबर सिर्फ रीवा न्यूज़ मीडिया पर : VISIT NOW : www.Rewanewsmedia.com

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.