BHOPAL : शिवराज कैबिनेट का बड़ा फैसला, उद्यानिकी फसलों के लिए फसल बीमा योजना बढ़ाई


भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में मंत्रालय में बुधवार को कैबिनेट बैठक हुई। इसमें कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि कोरोना योद्धा कल्याण योजना के तहत प्रदेश में कोरोना की रोकथाम में लगे अधिकारी-कर्मचारी के निधन पर 50 लाख रुपये की सहायता दिए जाने का प्रावधान किया गया था। अब तक 20 लोगों के परिजनों को आर्थिक सहायता मुहैया कराई जा चुकी है। फाल्गुनी पाल और सुषमा चंद्रवंशी को उपनिरीक्षक के पद पर अनुकंपा नियुक्ति दिए जाने के फैसले का बैठक में अनुमोदन किया गया। उद्यानिकी फसलों के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एक साल बढ़ा दी गई है।
पथ विक्रेताओं के लिए लागू प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत राज्य सरकार पांच लाख पथ विक्रेताओं को लाभान्वित करेगी। इसमें 10 हजार का कर्ज बैंक से दिलाया जाएगा। शिवराज सरकार ने तय किया है कि ब्याज अनुदान वह अपनी ओर से देगी। इसमें प्रतिवर्ष 25 करोड़ रुपए लगेंगे। इसके साथ ही एक अन्य महत्वपूर्ण फैसले में सरकार ने उद्योग संवर्धन नीति के तहत 25 करोड़ की लागत वाली इकाइयों को भी वृहद उद्योगों की श्रेणी में शामिल करने का निर्णय लिया है। प्रदेश में अभी 100 करोड़ रुपये की लागत वाली इकाइयां ही वृहद इकाई में शामिल होती थी। इसके साथ ही बुनकर उद्योग भी वृहद उद्योग की श्रेणी में शामिल होगा।

सीएम शिवराज सिंह चौहान मंत्रियों के साथ करेंगे वन-टू-वन चर्चा
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज और कल दो दिन वे मंत्रियों के साथ वन-टू-वन चर्चा करेंगे। विभागीय जानकारी, रोड मैप, डिलेवरी मेकेनिज्म इन विषयों पर चर्चा होगी। मंत्रियों को किसी भी स्त्रोत से कोई जानकारी मिले तो उसकी गहराई में जाएं, जरूरत हो तो कार्रवाई करें। जुलाई में आप अपने विभाग को अच्छ से देख लें, समझ लें, कार्यों के लिए टारगेट सेट करें। सीएम ने कहा अगस्त में मैं विभाग की समीक्षा शुरू करूंगा। आत्मनिर्भर मध्य प्रदेश के लिए चर्चा की जाएगी। उज्जैन में पंकज जैन आबकारी विभाग में कार्यरत हैं, दुष्कर्म का आरोपी है। सीएम ने उसे बर्खास्त किया जाएगा। इस विषय में अब कोई भी विभागीय जांच नहीं होगी।
Powered by Blogger.