CRIME : लुटेरी दुल्हन गैंग ने आधा दर्जन युवकों से की ठगी, ऐसे फंसाती थी जाल में


बुरहानपुर। युवकों को शादी का झांसा देकर ठगने वाली लुटेरी दुल्हनों के गैंग द्वारा शहर के लालबाग क्षेत्र के आधा दर्जन से ज्यादा युवकों को शिकार बनाने का मामला सामने आया है। हालांकि अब तक कि सी ने पुलिस में एफआईआर दर्ज नहीं कराई है। इनमें से कु छ लोगों को गिरोह की ओर से रुपए वापस करने का आश्वासन दिया गया है, जिसके चलते मामला पुलिस थाने तक नहीं पहुंचा।

ठग गिरोह का शिकार हुए युवकों ने बताया कि दुल्हन व परिवार के अन्य सदस्यों के आने-जाने के भाड़े आदि के नाम पर उनसे 16 से लेकर 20 हजार रुपए तक ऐंठे गए हैं। हाल ही में इस गिरोह का शिकार हुए लालबाग निवासी संदीप सूर्यवंशी के मुताबिक दलाल बनकर फोन पर शादी का प्रस्ताव रखने वाले आकोट महाराष्ट्र निवासी व्यक्ति ने उसे एक युवती की तस्वीर भेजी थी।

बाद में वह नौ दिसंबर को युवती को लेकर भी आया और परिवार की मौजूदगी में सगाई भी कराई। उसने बताया था कि युवती साठेगांव अकोला की रहने वाली है और उसके माता-पिता नहीं हैं। उसने खुद को युवती का मामा बताया था। सगाई के बाद 12 दिसंबर को शादी तय हुई थी।

जाते समय उसने शादी की तैयारी और भाड़े के नाम पर 20 हजार रुपए मांगे, जिसे युवक ने उसके बैंक खाते में डलवा दिए थे। तय तारीख से एक दिन पहले ही सारे रिश्तेदार घर में जमा हो गए थे। पूरे घर में खुशी का माहौल था। 12 दिसंबर को दलाल एपी पाटिल ने सुबह फोन कर बताया कि वे महाराष्ट्र से निकल चुके हैं। इसके बाद दोपहर तक मलकापुर, इच्छापुर और फिर बुरहानपुर पहुंचने की जानकारी देता रहा, लेकि न जब उन्हें लेने वे बस स्टैंड पहुंचे तो वे नहीं मिले।

दो घंटे तक परेशान होने के बाद जब उन्होंने फोन लगाया तो कि सी का फोन नहीं लगा। संदीप ने 15 दिसंबर को अपने मित्र के मोबाइल से फिर नंबर डायल कि या तो दलाल से बात हुई और उसने रुपए वापस करने का भरोसा दिलाया, लेकि न 17 दिसंबर की शाम तक खाते में रुपए नहीं आए थे।

भीका से भी 16 हजार रुपए लिए

लालबाग क्षेत्र के मिल चाल एरिया में रहने वाले भीका नाम के युवक ने भी कथित दलाल द्वारा शादी के नाम पर 16 हजार रुपए ठगने के आरोप लगाए हैं। उसने बताया कि इस क्षेत्र के करीब आठ से दस लोगों से इसी तरह अलग-अलग युवतियों के फोटो दिखाकर और सगाई करा ठगी की गई है। इनमें अधिकांश ऐसे युवक हैं जिनकी शादी को लेकर परिजन काफी समय से परेशान थे। जिसका फायदा उठाते हुए लुटेरी दुल्हनों के गैंग ने ठगी की वारदात को अंजाम दे डाला।

पहले भी हो चुकीं वारदातें

यह पहला मौका नहीं है जब बुरहानपुर में लुटेरी दुल्हन गैंग ने ठगी की है। इससे पहले भी कोतवाली थानाक्षेत्र में एक घटना सामने आ चुकी है। इस मामले में तो दिव्यांग एक युवक के साथ बाकायदा महाराष्ट्र की युवती ने न सिर्फ मंदिर में सात फे रे लिए थे, बल्कि पांच दिन तक युवक के घर में भी रही थी। इसके बाद अपने माता-पिता से मिलने का बहाना बनाकर पति के साथ निकली और बीच रास्ते से जेवर सहित गायब हो गई थी।

करेंगे कार्रवाई

अब तक हमारे पास शादी के नाम पर ठगी की शिकायत नहीं आई है। यदि शिकायत आती है तो संबंधितों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।


Powered by Blogger.