EXAMS 2020 : दिल्ली सरकार का बड़ा फैसला, तमाम परिस्थितियों को देखते हुए रद्द की सभी यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं


DU Exams 2020: कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के चलते दिल्ली सरकार ने कॉलेज और यूनिवर्सिटी परीक्षाओं को लेकर बड़ा फैसला किया है। सरकार ने अपने यहां के सभी विश्वविद्यालयों की सारी परीक्षाएं रद्द करने की घोषणा की है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस संबंध में ट्वीट कर जानकारी दी।
बता दें कि दिल्ली में कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली के कई स्कूल-कॉलेजों में इस समय क्वारंटाइन सेंटर चल रहे हैं। ऐसे में वहां परीक्षाएं कराना संभव नहीं है। तमाम परिस्थितियों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने तय किया कि उनकी किसी स्टेट यूनिवर्सिटी में फिलहाल कोई परीक्षा नहीं होगी। इसके तहत कॉलेज, यूनिवर्सिटी में होने वाली फाइनल ईयर की परीक्षाएं भी शामिल हैं। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली के सभी विश्वविद्यालयों के छात्रों के लिए कोई परीक्षा नहीं होगी और पिछली परीक्षाओं के मूल्यांकन के आधार पर छात्रों का रिजल्ट तैयार किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि सरकार का ये फैसला तीसरे वर्ष के छात्रों पर भी लागू होगा।

इन यूनिवर्सिटी में नहीं होगी परीक्षा
दिल्ली सरकार के इस फैसले के बाद राज्य के सभी यूनिवर्सिटी परीक्षाओं को लेकर स्थिति स्पष्ट हो गई है। बता दें कि अभी तक परीक्षाओं को लेकर सभी यूनिवर्सिटी-कॉलेजों में असमंजस की स्थिति थी। बहरहाल अब दिल्ली राज्य में आने वाली आईपी यूनिवर्सिटी, आंबेडकर यूनिवर्सिटी, डीटीयू और अन्य सभी संस्थानों में परीक्षाएं नहीं होंगी।

सीएम केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र
दिल्ली सरकार ने अपने संबद्ध यूनिवर्सिटी को लेकर तो फैसला कर लिया, लेकिन दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) से जुड़े कॉलेजों को लेकर केंद्र सरकार करेगी। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि केंद्र सरकार के अधीन आने वाले कॉलेजों और यूनिवर्सिटी के संबंध में भी केंद्र सरकार फैसला करें।
दरअसल दिल्ली सरकार का कहना है कि जब सेमेस्टर की पढ़ाई हुई ही नहीं है, ऐसे में उसकी परीक्षा कराना मुश्किल है। बता दें कि कुछ दिन पहले ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने घोषणा की थी कि यूनिवर्सिटियों में सितंबर के अंत में फाइनल इयर की परीक्षाएं कराई जाएंगी। पूर्व में ये परीक्षाएं जुलाई में होने वाली थी। लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण इन्हें आगे बढ़ा दिया गया। इधर UGC ने भी स्पष्ट किया है कि जो स्टूडेंट्स सितंबर में फाइनल ईयर की परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे उन्हें बाद में मौका दिया जाएगा और विश्वविद्यालय द्वारा ऐसे स्टूडेंट्स के लिए स्थिति सामान्य होने पर अलग से परीक्षा कराई जाएगी।

Powered by Blogger.