REWA : ठेका समाप्त होने के बाद भी प्राइवेट व्यक्ति कर रहे वसूली : तीन को पकड़ा, मामला दर्ज


रीवा। ठेमा समाप्त होने के बाद शहर के भीतर प्राइवेट व्यक्ति बाजार बैठकी की वसूली कर रहे है। पुलिस ने अवैध तरीके से वसूली कर रहे तीन लोगों को पकड़ा है जिनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

31 मार्च से समाप्त हो चुका है ठेका
शहर के भीतर 31 मार्च से बाजार बैठकी की वसूली का ठेका समाप्त हो चुका है और दुबारा ठेका नहीं होने से विभागीय वसूली नगर निगम करवा रहा है लेकिन पुराने ठेकेदार के कर्मचारी अभी भी बाजार बैठकी की वसूली दुकानदारों से कर रहे है। इस बात की सूचना मिलने पर सिविल लाइन पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन लोगों को पकड़ा है। पुलिस ने छोटी पुल के समीप वसूली कर रहे रमेश कुशवाहा पिता धर्मदास निवासी पुष्पराजनगर को पकड़ा है जिसके पास से 500 रुपए, पर्ची व पेन बरामद हुआ। शिल्पी प्लाजा के समीप पुलिस ने आरोपी प्रिंस उपाध्याय निवासी खुटेही को गिरफ्तार कर 120 रुपए व नगर निगम की पर्ची व ढेकहा तिराहे पर आरोपी उमेश यादव पिता केदार प्रसाद निवासी बरा थाना चोरहटा को पकड़ा है।

आरोपियों के खिलार्फ दर्ज हुआ मामला 
उक्त आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। उनके पास से मिली पर्ची नगर निगम की थी। 31 मार्च के बाद से ठेका समाप्त हो गया था और नगर निगम कर्मचारी वसूली कर रहे है लेकिन उनके स्थान पर प्राइवेट व्यक्ति वसूली कर रहे है। थाना प्रभारी अनिमेश द्विवेदी ने बताया कि उनके पास नगर निगम से वसूली का कोई अधिकृत पत्र नहीं था और वे बाजार बैठकी वसूल रहे थे जिस पर उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है।

कर्मचारियों के आदेश पर कर रहे थे वसूली
आरोपियों ने नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा वसूली का आदेश देने की जानकारी पुलिस को दी है। बाजार बैठकी की वसूली करने के लिए नगर निगम ने कर्मचारी नियुक्त किये है जिनको विभिन्न चौराहों में वसूली का आदेश दिया गया है। आरोपियों की बात को सही माने तो अपने स्थान पर कर्मचारियों ने उनको वसूली करने का आदेश दिया था जिस पर वे नगर निगम की पर्ची लेकर पैसा वसूल रहे थे। इसके एवज में प्रतिदिन का कर्मचारी उनको पैसा देते है। खुद कर्मचारी वसूली नहीं करते है।


Powered by Blogger.