MP के रीवा जिले में जनता की समस्या सुनाने बजाये गुंडागर्दी पर उतारू हुए BJP विधायक : VIDEO वायरल


ऋतुराज द्विवेदी,रीवा। मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार को 15 वर्षों से अधिक समय सत्ता में काबिज हुए हो गया है जिसका परिणाम यह है कि अब इस पार्टी के विधायकों को सत्ता और सरकार का इतना घमंड हो गया है कि ये अपने क्षेत्र की जनता को ही अपमानित करते हुए दिखाई दे रहे हैं।एक ओर जहां प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश की जनता को भगवान और अपने आप को भगवान का पुजारी कहते हैं तो वहीं दूसरी ओर उन्हीं के पार्टी के विधायक उसी जनता के साथ मारपीट और गुंडागर्दी करते हुए देखे जा रहे हैं। मध्यप्रदेश के रीवा जिले के सेमरिया विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक के पी त्रिपाठी का वीडियो वायरल हो रहा है.

इस वीडियो में माननीय विधायक की गाड़ी रुकवाकर सफेद कुर्ता में एक व्यक्ति अपने साथियों के साथ उन्हें गांव की समस्याएं बता रहा है जिस पर विधायक आगबबूला होते हुए उक्त युवक को नेतागिरी न करने की हिदायत देते हुए दिखाई दे रहे हैं।वहीं इस पूरे घटनाक्रम का मोबाइल से वीडियो शूट कर रहे युवक को मोबाइल बंदकरने को कहते हैं और जब युवक मना करता है तो अपने सेक्यूरिटी गार्ड को भेजकर मोबाइल बंद कराकर छीनने का प्रयास करते हैं और जब बात यहाँ भी नहीं बनती तो मारपीट करने में उतारू हो जाते हैं और वीडियो बंद हो जाता है।
इस वीडियो के वायरल होने के बाद विधायक के बारे में तरह तरह की चर्चाएं शुरू हो जाती हैं।

                                  
वीडियो बनने से इतना खफा क्यों दिख रहे बीजेपी विधायक
सेमरिया से बीजेपी विधायक के पी त्रिपाठी को तो कैमरे से बेहद लगाव है यह अक्सर टीवी न्यूज चैनलों में कांग्रेस सरकार के प्रति हमले करते हुए और अपनी सरकार की बड़ाई करते हुए देखे जाते हैं,और तो और मीडिया में अक्सर ही बने रहते हैं,इनके सोसल मीडिया अकॉउंट को देखा जाय तो कई वीडियो आपको मिल जाएंगे।

अब बड़ा सवाल यह है कि मीडिया के कैमरे में बने रहने वाले बीजेपी विधायक को अपने क्षेत्र के नौजवान के मोबाइल कैमरा इतना रास क्यों नहीं आया और वह मारपीट में उतारू हो गए।

पूर्व मंत्री रीवा विधायक राजेन्द्र शुक्ल के बेहद करीबी माने जाते हैं विधायक त्रिपाठी
रीवा विधानसभा से वर्तमान विधायक एवं मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री रह चुके राजेन्द्र शुक्ल के बेहद करीबी माने जाते हैं सेमरिया विधायक के पी त्रिपाठी।

कहा तो यह जाता है कि टिकट से लेकर चुनाव जितवाने तक कि सम्पूर्ण जबाबदेही पूर्व मंत्री की ही रही है और उन्हीं की कृपा और आशीर्वाद से एवं उन्हीं के जनाधार से यह पहली बार विधायक बने हैं और अब उनके इस वर्ताव से पूर्व मंत्री की भी खिल्ली उड़ रही है और जनता दूरी बना रही है।

वर्जन 

आप के पूर्व विधानसभा प्रत्यासी प्रमोद शर्मा ग्रामीणों से हुए रूबरू : देखें वीडियो 


वहीं `रीवा न्यूज़ मीडिया` से आप के पूर्व विधानसभा प्रत्यासी प्रमोद शर्मा ने बातचीत करते हुए बताया की मुड़ियारी पहुचने में जनता की समस्या से अवगत हुए। जिसमे ग्राम से राशन दुकान स्थान्तरण किये जाने की शिकायत थी। और ग्राम के सहायक सचिव द्वारा भारी भ्रस्टाचार किया जा रहा। लोग बहुत दुखी थे। आवास योजना में भारी अनियमितता देखी जा रही। पूरे गांव के टॉयलेट के पैसे निकाल गए टॉयलेट बने नही। ग्रामीणों ने पूरे गांव के वितीय खर्च की जांच की मांग की। 

प्रमोद शर्मा पूर्व विधानसभा प्रत्यासी


REWA NEWS MEDIA पढ़े ताजा ख़बरें, अभी Like करें और हमसे जुड़ें
Powered by Blogger.