REWA : हत्या मामले में 17 लोगों पर मामला दर्ज कर पुलिस ने मुख्य आरोपित सहित पांच को किए गिरफ्तार

रीवा। 24 घंटे पूर्व जिले के मऊगंज थाना के पन्नी पथरिया गांव में नशा तस्कर और उसके साथियों के द्वारा की गई हत्या एवं जानलेवा हमला करने के मामले में पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए घटना के मुख्य आरोपित सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के तहत इस घटना का मुख्य आरोपित सोनू साकेत और उसके साथी रवि जैसवाल को घेराबंदी करके मऊगंज से गिरफ्तार किया है। जबकि सोनू के भाई लाला साकेत सहित तीन अन्य को पुलिस ने मऊगंज स्थित एक पैलेस से पकड़ने में सफलता पाई। ज्ञात हो कि पुलिस ने मामले में 13 नामजद सहित पांच अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस कप्तान के द्वारा इस मामले में कार्रवाई करने के लिए एडिशनल एसपी मऊगंज के नेतृत्व में पुलिस की छह टीमों का गठन किया था। सभी टीमें पूरी मुस्तैदी के साथ मामले को सुलझाने तथा नामदर्ज सहित अन्य सभी आरोपितों की तलाश लगातार कर रहीं थीं।
पुलिस की सलप्तिता की जांच
हत्या कांड में दो पहलुओं पर पुलिस अधिकारी जांच कर रहे हैं। जिसमें पहला पहलू 14 वर्षीय किशोर की हत्या तथा मारपीट कर दो लोगों को घायल किए जाने की घटना एवं दूसरा पहलू हत्या कांड के आरोपितों से मऊगंज पुलिस की संलप्तिता की है। इसको लेकर एसपी ने जांच के आदेश दिए हैं। जांच की रिपोर्ट आने के बाद ही स्वजनों के द्वारा लगाए गए आरोपों से पर्दा उठ पाएगा। ज्ञात हो की हत्याकांड के बाद स्वजन इस बात को लेकर आक्रोशित रहे कि हमलावर नशे का अवैध कारोबार करता है। उसके इस कार्य की शिकायत स्वयं मारपीट में घायल रत्नेश सिंह ने पुलिस से की थी। शिकायत के बाद पुलिस नशा तस्कर के घर भी पहुंची थी। लेकिन कार्रवाई करने की बजाए शिकायतकर्ता का नाम सोनू साकेत को बताने के बाद वह उलटे पांव लौट गई थी। जिसके चलते यह हत्या कांड हो गया।
क्या थी घटना
जिले के मऊगंज थाना के पन्नी पथरिया गांव में रविवार की सुबह नशा तस्कर और उसके साथियों ने दुकान से घर जा रहे मामा- भांजे सहित तीन लोगों पर जानलेवा हमला कर दिया था। जिससे घटनास्थल पर ही 14 वर्षीय किशोरचमन सिंह पुत्र रिषी सिंह निवासी डमंडगंज की मौत हो गई। जबकि सर्वेश सिंह पुत्र रावेंद्र सिह और रत्नेश सिंह पुत्र श्रीलाल सिंह निवासी जमुरहा घायल हो गए थे। घटना की जानकारी लगने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घटना को लेकर कार्रवाई कर रही थी लेकिन आक्रोशित मृतक का परिवार मौके से शव को उठाने के लिए तैयार नहीं था। एसपी के मौके पर पहुंचने तथा कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिए जाने के बाद स्जवन आठ घंटे बाद किशोर का शव पीएम के लिए अस्पताल ले गए थे।
आदिवासी सामाज ने दलितों पर शोषण का लगाया आरोप
सोमवार को मऊगंज थाने में दिन भर सरगर्मी के बीच दोपहर तीन बजे आदिवासी सामाज के आधा सैकड़ा लोग मऊगंज थाना पहुंचे और उन्होंने थाने में पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए दलित आदिवासी सामाज के लोगों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ कार्रवाई न करने का आरोप लगाए। इस दौरान उन्होंने एसडीओपी मऊगंज को एक ज्ञापन पत्र देकर मऊगंज क्षेत्र में हुए दलित सामाज के लोगों के साथ घटना को लेकर एक ज्ञापन पत्र सौंपा। उन्होंने मांग की है कि पुलिस सभी मामलों में कार्रवाई करे।
वर्जन
हत्या की घटना के पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। 13 नामजद सहित पांच अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। सभी की तालाश की जा रही है। इस घटना में पुलिस की संलिप्तता की भी जांच करवाई जा रही है। जो भी जांच में तथ्य आएंगे उस पर कार्रवाई की जाएगी।
राकेश कुमार सिंह, एसपी रीवा।




Powered by Blogger.