किचन में करते हैं SANITIZER का उपयोग, तो हो सकता है जान का खतरा


ग्वालियर । अगर आप भी किचन में सैनिटाइजर का उपयोग करते हैं तो जान का खतरा हो सकता है। ग्वालियर के आदित्यपुरम में शशि प्रभा श्रीवास्तव ने कोरोना संक्रमण से बचने के लिए शुक्रवार की सुबह खाना बनाने से पहले किचन में सैनिटाइजर का उपयोग कर उसे साफ किया। सैनिटाइज करने के बाद गैस जलाते ही किचन में आग लग गई। आग से महिला का चेहरा व हाथ झुलस गए। महिला को बचाने का प्रयास करने में पति के भी हाथ झुलस गए। श्रीवास्तव दंपती को उपचार के लिए गोला का मंदिर स्थित एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।


आदित्यपुरम निवासी शशि प्रभा श्रीवास्तव स्वयं व परिवार को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए विशेष सावधानी बरत रही हैं। खाना बनाने से पहले वे हाथ धोने के साथ किचन को सैनिटाइज करती हैं। शुक्रवार की सुबह शशि प्रभा श्रीवास्तव ने किचन में नाश्ता बनाने से पहले किचन को सैनिटाइज किया और उसके तत्काल बाद गैस चालू कर दी। गैस के लौ पकड़ते ही किचन में आग लग गई। जिससे महिला का चेहरा व हाथ झुलस गए। घर में मौजूद पति रविंद्र कुमार श्रीवास्तव पत्नी की चीख सुनकर किचन में भागकर आए। पत्नी को आग की लपटों से बचाते समय उनके भी हाथ झुलस गए। झुलसी हालत में श्रीवास्तव दंपती को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


सैनिटाइज करने के बाद आग से 2 से 3 मिनट दूर रहें

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए हर किसी की जेब में सैनिटाइजर रखना मजबूरी हो गया है। जिससे वे किसी वस्तु को छूने व किसी के संपर्क में आने के बाद सैनिटाइज कर सकें। सैनिटाइजर में अल्कोहल होने के कारण इसे आग से दूर रखें। इसके साथ ही हाथों को सैनिटाइज करने के बाद 2 से 3 मिनट तक माचिस व अन्य कोई ज्वलनशील पदार्थ नहीं जलाएं।


आदित्यपुरम में एक महिला के तेजाब से झुलसने की सूचना मिली थी। मौके पर जाकर तस्दीक करने पर पता चला कि शशि प्रभा श्रीवास्तव ने किचन को सैनिटाइज करने के तत्काल बाद गैस जला दी। जिसके कारण आग लग गई। महिला का चेहरा व हाथ झुलस गए हैं। पति के भी पत्नी को बचाने के प्रयास में हाथ झुलस गए हैं। दंपती को इलाज के एक निजी हॉस्पिटल भर्ती कराया गया है। 

आसिफ मिर्जा वेग, टीआइ महाराजपुरा थाना




Powered by Blogger.