MP : 15 अक्टूबर के बाद मिलेगी INDORE METRO रेल को रफ्तार


इंदौर । इंदौर में मेट्रो प्रोजेक्ट के छह महीने से रुके काम को दोबारा शुरू करने का मुहूर्त आ गया है। 15 से 20 अक्टूबर तक एमआर-10 ब्रिज से मुमताजबाग के बीच मेट्रो कॉरिडोर के निर्माण की गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। सुखलिया चौराहा (बापट चौराहा) से विजय नगर के बीच हाइटेंशन लाइन की शिफ्टिंग का काम सर्वोच्च प्राथमिकता से होगा। शुक्रवार को मेट्रो कंपनी, नगर निगम और आइडीए अधिकारियों के संयुक्त दौरे में काम की रूपरेखा तय की गई।

दौरे में निगमायुक्त प्रतिभा पाल, मेट्रो कंपनी के प्रोजेक्ट डायरेक्टर (तकनीकी) जितेंद्र दुबे और आइडीए सीइओ विवेक श्रौत्रिय के अलावा कांट्रेक्टर कंपनी दिलीप बिल्डकॉन के प्रतिनिधि मौजूद थे। दौरे के बाद निगमायुक्त ने बताया कि कांट्रेक्टर कंपनी द्वारा 45 दिन के भीतर काम शुरू करने का भरोसा दिया है। कंपनी ने कहा है कि वह 15 से 20 अक्टूबर तक इंदौर में मेट्रो कॉरिडोर का काम दोबारा शुरू कर देगी। शुक्रवार को अधिकारियों के साथ एमआर-10 ब्रिज से लेकर मुमताजबाग के बीच काम करने में आ रही अड़चनें देखीं। ब्रिज के पास आइडीए इंटर स्टेट बस टर्मिनस (आइएसबीटी) बना रहा है। वहां आइडीए द्वारा बनाई जा रही दो सड़कों के बीच मेट्रो कॉरिडोर के पिलर आ रहे थे।

संयुक्त दौरे में आइडीए सीइओ के साथ सड़कों का अलाइनमेंट तय कर दिया। दूसरी परेशानी 132 केवी की हाइटेंशन लाइन की है। उसकी शिफ्टिंग का वर्कऑर्डर ट्रांसमिशन कंपनी दे चुकी है। करीब सवा किमी लंबी बिजली लाइन में बापट चौराहा से विजय नगर के बीच की लाइन सबसे पहले शिफ्ट करने को कहा है, ताकि काम में समस्या न आए। दूसरे चरण में बचे हिस्से की लाइन शिफ्ट करेंगे। आयुक्त ने बताया कि मेट्रो कॉरिडोर में जहां-जहां अवंतिका गैस एजेंसी, नगर निगम और मोबाइल कंपनियों की सर्विस लाइन आ रही हैं, शुक्रवार को उनसे कहा गया है कि वे अपनी लाइनों की शिफ्टिंग का काम जल्द से जल्द पूरा कर लें।

Powered by Blogger.