MP : अपनी पत्नी को बेरहमी से पीटने वाले IPS का वीडियो वायरल : गृह विभाग ने किया कार्यमुक्त


भोपाल। मध्य प्रदेश पुलिस के स्पेशल डीजी अभियोजन आइपीएस पुरुषोत्तम शर्मा का अपनी पत्नी के साथ बेरहमी से मारपीट करते वीडियो वायरल हो रहा है। इस दौरान एक और वीडियो सामने आया है जिसमें आइपीएस अधिकारी एक महिला के घर में और उनकी पत्नी वहां पहुंच जाती है। इस मामले में मध्य प्रदेश शासन के गृह विभाग ने उन्हें कार्यमुक्त कर दिया गया है। वे गृह विभाग मंत्रालय में आमद देंगे।

राज्य महिला आयोग ने लिया संज्ञान

इस मामले में सोमवार को राज्य महिला आयोग ने स्वत: संज्ञान लेकर मुख्यमंत्री और गृहमंत्री से अधिकारी पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। राज्य महिला आयोग अध्यक्ष शोभा ओझा ने कहा है कि जिस तरह से वीडियो में डीजी अपनी पत्नी को पीटते नजर आ रहे हैं, वह बेहद आपत्तिजनक है। महिला आयोग स्वयं संज्ञान लेते हुए कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन देती है। साथ ही मुख्यमंत्री और गृहमंत्री से अपील करती है कि कानून की रक्षा करने का कर्तव्य जिन पुलिस कर्मचारियों का है, अगर वे स्वयं कानून की धज्जियां उड़ाते हैं तो सरकार को इस पर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए। आयोग की सदस्य संगीता शर्मा का कहना है कि डीजी पर घरेलू हिंसा का केस दर्ज होना चाहिए। साथ ही डीजी की पत्नी को सुरक्षा मुहैया कराना चाहिए।

उल्‍लेखनीय है कि मारपीट वाले वीडियो में उक्त अफसर बेरहमी से पत्नी को पकड़कर पीटते हुए दिखाई दे रहे हैं। वहीं दो अर्दली भी वीडियो में महिला को बचाते हुए दिखाई दे रहे हैं। उधर इस मामले में आइपीएस का कहना है कि मैंने कोई क्राइम नहीं किया है। वीडियो के साथ अफसर के बेटे का एक संदेश भी वायरल हुआ है जिसमें बताया गया है कि बेटे द्वारा इस घटना की जानकारी गृहमंत्री, मुख्य सचिव और डीजीपी को देते हुए पिता के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया गया है। हालांकि राजधानी की पुलिस और आला अफसर इस वीडियो या शिकायती पत्र प्राप्त होने से इन्कार कर रहे हैं। गृहमंत्री नेरात्तम मिश्रा से जब आइपीएस अधिकारी द्वारा उनकी पत्नी को बेरहमी से पीटने के वीडियो पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि शिकायत आने पर कार्रवाई करेंगे।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो के मुताबिक घटना रविवार दोपहर 2.49 बजे की है। जब आइपीएस अधिकारी अपनी पत्नी के साथ मारपीट कर रहा था। मारपीट की यह घटना अधिकारी के किसी महिला के साथ बैठने पर पत्नी द्वारा जताई गई आपत्ति को लेकर हुई प्रतीत होती है। जिसका जिक्र अधिकारी द्वारा वीडियो में किया गया है। घटना का वीडियो बेहद ही नियोजित तरीके से बनाया गया लगता है। करीब साढ़े चार मिनट के वीडियो में आइपीएस अधिकारी पत्नी को कई बार बेरहमी से मारते और अपशब्द का प्रयोग करते दिखाई दे रहा है। घटना के दौरान अधिकारी द्वारा उसे चाकू या कैंची मारने का भी जिक्र किया है, जिस पर उसकी पत्नी आत्मरक्षा में मारना बतला रही है।

सोशल मीडिया पर इस वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप की स्थिति है। उक्त अधिकारी का नाम राजधानी के हनीट्रैप मामले में जोड़ा जा चुका है, लेकिन उस दौरान भी कोई पुख्ता सबूत सामने नहीं आए थे। इसी तरह इस वीडियो की पुष्टि भी पुलिस के स्तर पर नहीं की गई। डीआईजी इरशाद वली से जब इस वीडियो को लेकर जानकारी चाही गई तो उन्होंने बताया कि पुलिस को न तो उक्त वीडियो प्राप्त हुआ है और न कोई शिकायत प्राप्त हुई है।

आइपीएस अधिकारी पुरुषोत्तम शर्मा ने दिया यह बयान



पत्नी से मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद आइपीएस अधिकारी पुरुषोत्तम शर्मा ने बयान दिया कि मैंने कोई क्राइम नहीं किया है, यह मेरे और पत्नी के बीच का यह पारिवारिक मामला है। अगर वह मुझसे इतनी नाराज हैं तो मेरे साथ क्यों रहती हैं। मेरे पैसे का इस्तेमाल क्यों करती हैं? मेरे पैसों पर विदेश यात्राएं क्यों करती हैं? यह मेरा पारिवारिक मामला है, इसे मैं खुद सुलझा लूंगा, मैं मेरी पत्नी से लगातार संपर्क में हूं, मैं पूरी कोशिश कर रहा हूं कि यह मामला सुलझा लिया जाए। यह सेल्फ डिफेंस के तहत झूमा-झटकी का मामला है। मैंने कोई मारपीट नहीं की है, सिर्फ धक्का-मुक्की और झूमा झटकी हुई है। वायरल वीडियो को लेकर कहा कि मेरी पत्नी और मेरा बेटा ही बता सकते हैं कि उन्होंने वीडियो क्यों वायरल किया। मेरी पत्नी ने पूरे घर में सीसीटीवी कैमरे लगा रखे हैं। मैं जहां जाता हूं, मेरा पीछा करती है मुझे स्टॉक करती है। मैं बहुत परेशान हूं, 2008 में भी उन्होंने मारपीट की शिकायत की थी। आज 12 साल बाद पता नहीं फिर उन्हें मुझसे क्या तकलीफ हो गई। अगर मुझसे वो इतनी दुखी थीं तो इतने साल मेरे साथ क्यों रहीं। यह मेरे लिए बहुत दुर्भाग्यपूर्ण हैं।

गृहमंत्री ने कहा, शिकायत आने पर करेंगे कार्रवाई

स्पेशल डीजी अभियोजन पुरुषोत्तम शर्मा का पत्नी से मारपीट मामले में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि देखा और पढ़ा मैंने भी है कोई शिकायत आएगी तो कार्रवाई की जाएगी। वहीं डीजीपी विवेक जौहरी का कहना है उन्हें भी अभी तक इस मामले में कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है।

Powered by Blogger.