उद्धव ठाकरे को KANGANA रनोट ने दी सीधी चुनौती कहा, आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा

Telegram

अभिनेत्री कंगना रनोट ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को सीधी चुनौती दी है। भारी हंगामे और बीएमसी द्वारा अपना ऑफिस ढहाए जाने के बीच कंगना हिमाचल से मुंबई पहुंची। मुंबई स्थित अपने घर में कदम रखते ही कंगना ने उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, आज मेरा घर टूटा है, कल तेरा घमंड टूटेगा, जय महाराष्ट्र। उद्धव ठाकरे तुझे क्या लगता है, तूने फिल्म माफिया के साथ मिलकर मेरा घर तोड़कर मुझसे बहुत बड़ा बदला लिया है। तुमने बहुत बड़ा एहसान किया है। मुझे पता तो था कि कश्मीरी पंडितों पर क्या बीती होगी। आज मुझे इस बात का एहसास हुआ है। आज मैं आपको एक वादा करती हूं कि मैं सिर्फ अयोध्या पर ही नहीं कश्मीर पर भी एक फिल्म बनाऊंगी। अपने देश के लोगों को जगाऊंगी। ठाकरे यह जो क्रूरता और आतंक मेरे साथ हुआ है उसके कुछ मायने हैं।जय हिंद। जय भारत।

बॉम्बे हाई कोर्ट ने अभिनेत्री कंगना रनोट के ऑफिस पर किसी भी तरह की तोड़फोड़ की कार्रवाई पर रोक लगा दी है। बीएमसी ने कंगना के दफ्तर पर अवैध निर्माण का नोटिस देने के अगले ही दिन यानी बुधवार सुबह बुलडोजर चला दिया। इसके खिलाफ अभिनेत्री ने अपने वकीलों के जरिए हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। इससे पहले जब कंगना हिमाचल से निकल कर मुंबई आ रही थीं, तब बीएमसी ने कंगना के दफ्तर पर तोड़फोड़ मचा दी। इसकी खबर लगते ही कंगना ने ट्वीट पर ट्वीट किए। उन्होंने लिखा, मणिकर्णिका फ़िल्म्ज़ में पहली फ़िल्म अयोध्या की घोषणा हुई, यह मेरे लिए एक इमारत नहीं राम मंदिर ही है, आज वहाँ बाबर आया है, आज इतिहास फिर खुद को दोहराएगा राम मंदिर फिर टूटेगा मगर याद रख बाबर यह मंदिर फिर बनेगा यह मंदिर फिर बनेगा, जय श्री राम , जय श्री राम , जय श्री राम। कंगना ने एक बार फिर अपने ट्वीट में पाकिस्तान शब्द का इस्तेमाल किया।

भारी हंगामे के बीच कंगना रनोट मुंबई पहुंच गई है। मुंबई एयरपोर्ट पर शिवसेना ने जहां उनका विरोध किया, वहीं भारी संख्या में मौजूद करणी सेना के लोगों ने एक्ट्रेस के समर्थन में नारे लगाए।
बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ कंगना की ओर से बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। कोर्ट आज ही इस याचिका पर सुनवाई करेगा। कंगना हिमाचल के मंडी से रवाना होकर आज ही मुंबई पहुंचेंगी। जब बीएमसी की टीम यह कार्रवाई कर रही थीं, तब कंगना चडीगढ़ एयरपोर्ट पर थीं। वहां से वे मुंबई की फ्लाइट पकड़ेंगी।
सुशांत सिंह केस के बाद शिवसेना से चल रहे पंगे के बीच अभिनेत्री कंगना रनोट आज हिमाचल प्रदेश के मंडी से मुंबई के लिए रवाना हो गई हैं। शिवसेना ने मुंबई में उनका विरोध करने का प्लान बनाया है, वहीं करणी सेना भी कंगना की सुरक्षा के लिए तैयार है। शिवसेना की धमकियों के बाद केंद्र सरकार ने कंगना को वाय प्लस श्रेणी की सुरक्षा मुहैया करवाई है। Kangana Ranaut के साथ बहन रंगोली चंदेल, भाई अक्षत व मामा का बेटा शम्मी ठाकुर भी है। बीती रात Kangana Ranaut का कोरोना टेस्ट हुआ था, जिसकी रिपोर्ट निगेटि आई। मंडी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉ. देवेंद्र शर्मा के इसकी पुष्टि।
मुंबई के लिए रवाना होने से पहले Kangana Ranaut ने एक ट्वीट किया और लिखा, 'रानी लक्ष्मीबाई के साहस,शौर्य और बलिदान को मैंने फ़िल्म के जरिए जिया है। दुख की बात यह है मुझे मेरे ही महाराष्ट्रा में आने से रोका जा रहा है मै रानी लक्ष्मीबाई के पद चिन्हों पर चलूंगी ना डरूंगी, ना झुकूंगी। गलत के ख़िलाफ़ मुख़र होकर आवाज़ उठाती रहूंगी, जय महाराष्ट्र, जय शिवाजी'
करणी सेना भी Kangana Ranaut के समर्थन में उतर आई है। करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सूरज पाल ने कहा, आज मुम्बई एयरपोर्ट पर महाराष्ट्र के करणी सैनिक पंकज सिंह, देवीचन्द सिंह, एडवोकेट संध्या ताई और गीरिश राजेन्द्र सिंह के नेतृत्व कंगना रानोट को उनके निवास स्थान तक सुरक्षित पहुंचाने का कार्य करेंगे।
 वहीं, Kangana Ranaut पर शिवसेना ने एक बार फिर बयान दिया। पार्टी की ओर से कहा गया कि मुंबई की तुलना पीओके से करना विकृत मानसिकता है और मुंबा देवी का अपमान है।
Powered by Blogger.