REWA : अस्पताल के वाहन पार्किंग में विवाद, ज्यादा पैसा देने का लगा रहे थे आरोप


रीवा । संजय गांधी अस्पताल में सोमवार की सुबह 11 बजे वाहन पार्किंग स्थल पर वाहन मालिक और पार्किंग के कर्मचारियों के बीच पैसे के लेन-देन को लेकर न सिर्फ तू-तू मैं-मैं हुई बल्कि विवाद की स्थिति निर्मित भी हो गई। हालांकि मौजूद लोगों की समझाइश के बाद मामला शांत हो गया। बताया जा रहा है कि कोई अनुज तिवारी नामक व्यक्ति अपने रिश्तेदार से अस्पताल में मुलाकात करने के लिए पहुंचे थे और वे मुलाकात करके अपना वाहन पार्किंग से निकालने लगे। जहां ठेकेदार के कर्मचारी उनसे दो पहिया वाहन का पार्किंग शुल्क 10 रुपये मांग रहे थे। श्री त्रिपाठी का आरोप था कि कर्मचारी उनसे 10 रुपये को लेकर भिड़ गए। जबकि पार्किंग का रेट दो पहिया वाहन का 5 रुपये है। उस हिसाब से ठेकेदार का कर्मचारी वाहन वसूली में दो गुना पैसे की वसूली कर रहे हैं और यह भ्रष्टाचार की श्रेणी में आता है।

राजस्व कार्य में 20 फिसड्डी लापरवाह पटवारियों पर कलेक्टर ने कसा शिकंजा 

ऐसे बिगड़ा मामलाः वाहन पार्किंग शुल्क को लेकर विवाद की स्थिति उस समय निर्मित हुई जब अनुज अपना वाहन लेकर जाने लगे और उन्होंने अपना परिचय भी पार्किंग के कर्मचारी को दिया। बावजूद इसके कर्मचारी 10 रुपये की मांग करते हुए उनका वाहन आगे नहीं बढ़ने दे रहा था। उन्होंने जब पर्ची शुल्क लिया तो देखा कि उसमें दो पहिया वाहन का शुल्क 5 रुपये लिखा है जिस पर वे आक्रोशित हो गए। उन्होंने बताया कि जो रेट निर्धारित है उस हिसाब से साइकिल का 3 रुपये, दो पहिया वाहन का 5 रुपये और 4 पहिया वाहन का 10 रुपये है। जबकि ठेकेदार के कर्मचारी दो गुना रेट, साइकिल का 5 रुपये, दो पहिया वाहन का 10 रुपये और चार पहिया वाहन का 20 रुपये वसूल रहे हैं। इस अव्यवस्था के खिलाफ उन्होंने अस्पताल प्रशासन को फोन पर सूचना भी दी है। जबकि लिखित शिकायत को लेकर अभी पुष्टि नहीं हुई है।

Powered by Blogger.