शर्मनाक : पहले गर्भवती का गला घोंटा फिर पेट काटकर बच्चे का किया अपहरण, अब मिलेगी जहरीले इंजेक्‍शन से मौत की सज़ा

आज से 16 साल पहले एक वीभत्‍स घटना घटी थी। एक औरत ने एक गर्भवती महिला पर अत्‍याचार की हदें पार कर दी थीं। उसने महिला का गला घोंटकर ना केवल उसकी हत्‍या की, बल्कि बाद में नृशंस तरीके से उसका पेट काटकर गर्भ में पल रहे बच्‍चे का अपहरण कर लिया था। इसे बहुत क्रूर और दुलर्भतम गुनाहों में शामिल किया गया है। अब इंसाफ की घड़ी आई है। इस महिला को जहरीला इंजेक्‍शन लगाकर मौत की सज़ा दी जाएगी। यह घटना अमेरिका में 2004 में हुई थी। गर्भवती की गला घोंटकर हत्या करने और पेट काटकर बच्चे के अपहरण की दोषी महिला को मृत्युदंड की सजा सुनाई गई है। छह दशकों में ऐसा पहली बार है जब किसी महिला को यह सजा सुनाई गई है। लीसा मांटगोमरी को आठ दिसंबर को जहरीला इंजेक्शन लगाकर मौत की सजा दी जाएगी। लगभग बीस वर्षों की रोक के बाद इसी वर्ष जुलाई में मृत्युदंड की सजा फिर से बहाल हुई है। लीसा नौवीं संघीय कैदी होंगी जिन्हें यह सजा दी जाएगी।

सेल्फी लेने के चक्कर में गई युवक की गई जान, दूसरे को बचाया : शव की तलाश  जारी

मांटगोमरी को 23 वर्षीय बोबी जो स्टिननेट की हत्या का दोषी ठहराया गया है। दिसंबर 2004 में हुए इस हत्याकांड के बारे में अभियोजकों का कहना है कि कुत्ते के पिल्ले को गोद लेने की आड़ में मांटगोमरी कंसास स्थित अपने घर से स्टिननेट के घर गई थी। घर पहुंचकर मांटगोमरी ने रस्सी से स्टिननेट का गला घोंटा और उसके बाद आठ महीने की गर्भवती स्टिननेट का पेट फाड़कर बच्चे को निकालकर फरार हो गई। जज ने मांटगोमरी के वकीलों के उस तर्क को खारिज कर दिया, जिसमें उसके बीमार होने की बात कही गई थी।


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.