REWA : पीडि़त और शोषित महिलाओं के ठहरने, भोजन, सुरक्षा तथा कानूनी सहायता देने गठित होगा महिला अधिवक्ताओं का पैनल : कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी



रीवा. कलेक्ट्रेट में वन स्टाप सेंटर की व्यवस्थाओं की समीक्षा की गई। कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी ने कहा कि वन स्टाप सेंटर में पीडि़त और शोषित महिलाएं आती हैं। उनके ठहरने, भोजन, सुरक्षा तथा उपचार की उचित व्यवस्था करें। उन्हें आवश्यक कानूनी सलाह की पूरी सुविधा दें। जिससे पीडि़त महिला को पूरी सुरक्षा मिल सके। वन स्टाप सेंटर का नवीन भवन तैयार हो गया है। नवम्बर माह से नवीन भवन में ही वन स्टाप सेंटर संचालित होगा।

वन स्टाप सेंटर में तैनात होंगे पैरामेडिकल 
वन स्टाप सेंटर की सेवाओं के संबंध में विधिक साक्षरता शिविर तथा सभी थानों के माध्यम से प्रचार-प्रसार करायें जिससे हर पीडि़त महिला को समय पर सहायता और सुरक्षा उपलब्ध करायी जा सके। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी वन स्टाप सेंटर में एक पैरामेडिकल कर्मचारी तैनात करके उपचार की आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करें। महिलाओं को कानूनी सहायता देने तथा काउंसिलिंग के लिए महिला अधिवक्ताओं का पैनल तैयार करें। जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास आउटसोर्स के माध्यम से वन स्टाप सेंटर में कर्मचारियों की व्यवस्था करें।

पीडि़त महिलाओं को अंतरित राशि दिलवाने सहायता करें 
जिला विधिक सहायता अधिकारी पीडि़त महिलाओं को कानूनी सलाह देने की व्यवस्था करने के साथ पीडि़त महिलाओं को अंतरिम सहायता राशि दिलवाने के लिए भी प्रयास करें। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रतिभा पाण्डेय ने वन स्टाप सेंटर के प्रकरणों के संबंध में जानकारी दी।

Powered by Blogger.