अब दिवाली से पहले नहीं खुलेंगे स्कूल और कॉलेज : शिक्षा मंत्री ने दिया बयान, इस तारीख तक रहेंगे बंद



मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे है और इन्हें ध्यान में रखते हुए दिवाली से पहले राज्य में स्कूल फिर से नहीं खुलेंगे। यह बात राज्य के स्कूल शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कही। महाराष्ट्र में अब तक कोरोना वायरस के कुल 15,17,434 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 40,040 लोगों की इस महामारी के चलते मौत हुई है।

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए बीते 16 मार्च को स्कूलों, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों सहित सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने की घोषणा की थी। हालांकि अब अक्टूबर में अनलॉक के पांचवें चरण में सरकार ने अब 15 अक्टूबर से स्कूलों को फिर से खोलने की अनुमति दी है।

हाल ही में COVID -19 से ठीक हुए महाराष्ट्र के स्कूल शिक्षा मंत्री गायकवाड़ ने कहा कि स्कूल ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन कर रहे हैं और कुछ क्षेत्रों में छात्रों के लिए शिक्षक विशेष कक्षाएं ले रहे हैं। हालांकि, चुनौती शैक्षणिक वर्ष को समाप्त करने और छात्रों का आकलन करने का एक तरीका खोजने की है।

गायकवाड़ ने कहा, "जब हम विभिन्न विकल्पों की खोज कर रहे हैं, तो यह स्पष्ट है कि स्कूल दिवाली से पहले नहीं खुलेंगे।" राज्य के शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार, मौजूदा परिस्थितियों में स्कूलों को फिर से खोलने का सवाल ही नहीं उठता, क्योंकि महामारी के खत्म होने के कोई संकेत नहीं हैं।

स्कूल शिक्षा मंत्री के बयान का मतलब है कि अब स्कूल 17 नवंबर से पहले नहीं खुलेंगे क्योंकि 14 नवंबर शनिवार को दिवाली है और फिर 15 को रविवार और 16 को सोमवार और इन दोनों दिन भी त्योहार होते हैं, जिनके चलते अवकाश रहता है।

वहीं, राज्य के उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने भी कहा कि उनका विभाग कॉलेजों को फिर से खोलने में तब तक सहमत नहीं है जब तक कि कोविड-19 की स्थिति नियंत्रण में नहीं आ जाती। उन्होंने कहा, "जो छात्र विदेश में उच्च अध्ययन करना चाहते हैं, उनके लिए स्थिति गंभीर है, क्योंकि उनका भविष्य हमारे फैसले पर निर्भर करता है।"

हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.