MP : आतंकियों से मुकाबला करते देश के लिए कुर्बान हो गया सतना का वीर जवान

रीवा । श्रीनगर में हुए आतंकी हमले में सतना जिले का जवान भी शहीद हुआ है। रीवा-सतना की सीमा पर रामपुर बाघेलान थानांतर्गत ग्राम पड़िया निवासी रामकलेश त्रिपाठी के 32 वर्षीय पुत्र धीरेंद्र त्रिपाठी आतंकियों की गोली हमले में शहीद हो गए। इसकी सूचना सोमवार देर शाम रीवा और सतना पुलिस के पास पहुंची। खबर मिलते ही गांव में मातम छा गया है।

परिवार गांव के लिए रवाना

बताया गया कि बलिदानी धीरेंद्र त्रिपाठी के पिता रामकलेश त्रिपाठी भी सीआरपीएफ में हैं। वह वर्तमान में रांची में पदस्थ हैं। अमरपाटन एसडीएम केके पांडेय ने बताया कि धीरेंद्र त्रिपाठी का परिवार गांव में नहीं रहता है। मां और पत्नी भोपाल में रहते हैं। खबर मिलने के साथ ही बलिदानी का परिवार भोपाल से पड़िया गांव के लिए रवाना हो चुका है।

धीरेंद्र की शहादत की खबर सतना जिला प्रशासन को मिली है। उधर सीआरपीएफ ने शहीद के पिता को फोन पर सूचना दी है। वीर सपूत धीरेंद्र के पिता बालाघाट में पदस्थ हैं। गौरतलब है कि इसके पूर्व चीन की सेना के साथ हुई झड़प में पिछले दिनों ही विंध्य के रीवा जिले के फरहद गांव का एक बहादुर बेटा शहीद हुआ था।

बलिदानी धीरेंद्र त्रिपाठी की ससुराल रीवा जिले के रायपुर कर्चुलियान में है जबकि उनकी मां भोपाल में रहती हैं। अंतिम बार वह मार्च में छुट्टी पर आए थे। पड़िया निवासी रमेश त्रिपाठी ने बताया कि धीरेंद्र का विवाह सात वर्ष पूर्व हुआ था। उनका तीन वर्ष का एक बेटा भी है।

जम्मू कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने बताया कि ड्यूटी पर तैनात सीआरपीएफ जवानों पर हमला तंगन बाईपास श्री नगर में हुआ। बाइक पर सवार हो कर आये दो आतंकियों ने जवानों पर AK47 से अंधाधुंध फायरिंग की। क्रॉस फायरिंग में सीआरपीएफ के दो जवान शहीद हो गए। बताया गया कि आतंकियों में से एक LET का है जो पाकिस्तान से आया है जबकि दूसरा आतंकी लोकल है। इस आतंकी द्वारा किया गया यह तीसरा हमला है।

अपडेट 

शहीद धीरेंद्र त्रिपाठी का पार्थिव शरीर आज मंगलवार दोपहर 3:00 बजे श्रीनगर से सेना के विशेष विमान द्वारा लखनऊ पहुंचेगा, जहां से बाई रोड उनके गृह ग्राम तक लाया जाएगा मंगलवार की रात 11:00 बजे तक शहीद का पार्थिव शरीर उनके ग्रह ग्राम पहाड़ी खैरा पहुंचने की संभावना है, बताया जा रहा है कि बुधवार को शहीद धीरेंद्र त्रिपाठी का उनके गृह ग्राम में अंतिम संस्कार किया जाएगा जहां पूरे राष्ट्रीय सम्मान के साथ गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया जाएगा, शहीद धीरेंद्र त्रिपाठी के पिता रामकली त्रिपाठी भी सीआरपीएफ के जवान है और धीरेंद्र त्रिपाठी उनके एकलौते पुत्र थे ।

मुख्यमंत्री शिवराज ने दी  श्रद्धांजलि


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.