MP : रात के सन्नाटे में देशी शराब की तस्करी : नंबर प्लेट पर मप्र शासन , 6 केन में भरी मिली 150 लीटर शराब



ग्वालियर। रात के सन्नाटे में देसी शराब की तस्करी का धंधा पकडा गया है, पुलिस की थ्योरी में इस शराब का इस्तेमाल भी उपचुनाव में वोटर्स को रिझाने के लिए होना था। लेकिन फिलहाल सिर्फ कयास है। क्योंकि शराब तो मिल गई लेकिन तस्करों को पुलिस पकड नहीं पाई।

गश्त में तस्करों को पकडने वाली टीम उनका काफी दूर तक पीछा करना बता रही है। लेकिन नशा का कारोबारी उससे तेज निकले। कार की नंबर प्लेट पर मप्र शासन लिखा है।

पुलिस ने बताया रात करीब 3:30 बजे रूद्रपुरा और सुसेरा के बीच में कार एमपी 07टीए 0556 पर गश्त पार्टी ने रोकने के लिए इशारा किया। लेकिन कार चालक ने अनदेखा कर गाडी दौडाई। हरकत पर शक हुआ। गश्त पार्टी ने कार को घेरने के लिए एफआरवी ३को भी काल किया।

कार चालक ने काफी दूर छकाया फिर गाडी को बाइपास केपास छोडकर भाग गया। जब तक उसका पीछा कर रही टीम पहुंची सडक किनारे लावारिस कार ही मिली। उसकी डिग्गी खोली तो 6 केन में देसी शराब से छक भरी थीं।

कार की पिछली नंबर प्लेट पर मप्र शासन भी लिखा है। जाहिर है तस्करों ने चकमा देने के लिए हरकत की है। कार में लदी शराब किसकी है, कहां से लाई गई है। कहां और क्यों पहुंचानी थी। कार मालिक से पता चलेगा। उसे तलाशा जा रहा है।

हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे   

Powered by Blogger.