भूल से भी ना छुए स्त्री का ये अंग, वरना पछताना पड़ेगा पूरी जिंदगी

भगवान ने दुनिया में बहुत से खूबसूरत चीजे बनाई है जो अपने आप में एक दूसरे से परे है और इन्ही सब में से एक है स्त्री, संसार में स्त्री की अहमियत इस बात से ही पता चलती है की स्त्री के बिना इस दुनिया की कल्पना करना भी नामुमकिन है, स्त्री अपने आप में एक शक्ति है, इसके प्रमाण हमे रामायण और महाभारत में मिलते है इनमे जो युद्ध हुए है वे स्त्रीयो के पीछे ही हुए है, स्त्री घर को बना भी सकती है बिगाड़ भी सकती है, समाज में दो परिवारों का मिलन भी एक स्त्री की वजह से ही होता है |

महिलाओं में क्यों खत्म हो जाती है यौन इच्छा? बीमारी का भी हो सकता है संकेत : पढ़िए

और इस बात से तो सभी वाकिफ है की खूबसूरती में भी स्त्रीयो का कोई सानी नहीं है यही वजह है की पुरुष स्त्रीओ की अदाओ के पीछे पागल होते है, लेकिन हम एक बात बताने जा रहे है की अगर आप देवी माँ भक्त है और उन्हें पूजते है तो आपको स्त्रीयो के एक अंग को छूने से परहेज रखना बहुत जरुरी है क्योंकि इसे छूना आपको मुसीबत में डाल सकता है .

शादी की उम्र से महिलाओं की सेहत पर क्या पड़ता है असर? जानें हेल्थ एक्सपर्ट की राय

हिन्दू धर्म में शास्त्रों में स्त्रियों से किस तरह पेश आना चाहिए, किस तरह व्यवहार किया जाना चाहिए इस बारे में विस्तार से वर्णन किया गया है, इसीलिए पुरुष को महिलाओं से संबंध बनाते समय उनकी अनुमति जरूर लेनी चाहिए और उनके साथ सलीके से पेश आना चाहिए लेकिन उनके एक अंग को छूने से बचना चाहिए क्योंकि इस अंग को छूने मात्र से ही काली माता नाराज हो सकती है और कठिनायों में डाल सकती है |

कितना प्यार करती है आपकी पत्नी, जानिए चुंबनों की गिनती से : STUDY

पुरुषो को कभी भी स्त्रीओ पर हुकुम नहीं चलना चाहिए और ना ही जोर जबरदस्ती करनी चाहिए और उनके इच्छा के बिना कभी भी संबंध नहीं बनाना चाहिए उनकी अनुमति मिलने पर ही संबंध बनाने चाहिए लेकिन एक बात का जरूर ध्यान रखे की भूलकर भी उनकी नाभि को ना छुए क्योंकि स्त्रीयो की नाभि में काली माता की शक्तियाँ समाविष्ठ होती है जिस कारण नाभि को छूना माँ काली को कुपित कर सकता है और आप गहरे संकट में पड़ सकते है. 


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे  

Powered by Blogger.