REWA : जीवन और मौत की जंग लड़ रही दुष्कर्म पीड़िता ने इलाज के दौरान ली अंतिम सांस

रीवा। । शहर के संजय गांधी अस्पताल में जीवन और मौत की जंग लड़ रही दुष्कर्म पीड़िता ने आखिरकार सोमवार की देर शाम दम तोड़ दिया। दुष्कर्म पीड़िता की मौत होने की सूचना मिलते ही पुलिस ने जिले के अतरैला थाना में दर्ज दुष्कर्म के मामले में धारा 306 की बढ़ोतरी कर मामले की विवेचना शुरू कर दी है, वहीं शव पीएम के उपरांत परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है।

क्या था मामला

गत 7 अक्टूबर को जिले के अतरैला थाना अंतर्गत एक नाबालिग किशोर ने अपने पड़ोस में रहने वाली नाबालिग किशोरी को उस समय हवस का शिकार बना लिया था जब उसके माता-पिता बाजार गए हुए थे और घर में वह अकेली थी।

दुष्कर्म का शिकार होने के बाद नाबालिग ने केरोसिन डालकर आग लगा ली थी, जिसे गंभीर अवस्था में इलाज के लिए संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था मामले का पता लगने के साथ ही एसपी के निर्देश पर अतरैला थाना प्रभारी द्वारा नाबालिग के विरुद्ध 376 363 का अपराध पंजीबद्ध किया गया था नाबालिग की मौत होने के बाद उक्त एफ आई आर में धारा 306 की बढ़ोतरी कर दी गई है

हो गई है गिफ्तारी

पुलिस अधीक्षक ने जानकारी देते हुए बताया कि घटना के तुरंत बाद अपराध पंजीबद्ध करने के साथ ही आरोपी की गिरफ्तारी कर ली गई थी उसे बाल सुधार गृह में रखा गया है वही पीड़िता की मौत हो चुकी है लिहाजा धारा बढ़ाई गई है मामले की विवेचना की जा रही है

इनका कहना है

पीड़िता की मौत के साथ ही उक्त मामले में 306 की धारा बढ़ा दी गई है नाबालिग की गिरफ्तारी पहले ही की जा चुकी है मामला विचाराधीन है

राकेश कुमार सिंह , पुलिस अधीक्षक रीवा


हमारी लेटेस्ट खबरों से अपडेट्स रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

FacebookInstagramGoogle News ,Twitter

मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ जुड़े हमसे   

Powered by Blogger.