MP : भोपाल स्टेशन पर जल्द ही यात्रियों को मिलेंगे बेडरोल : यह होंगी शर्तें



भोपाल । भोपाल स्टेशन पर जल्द ही यात्रियों को बेडरोल (चादर, कंबल, तकिया सेट) मिलने लगेंगे। इसके लिए रेलवे ने प्लेटफार्म-2 पर जगह तय कर ली है। यात्री मामूली शुल्क चुकाकर इस सुविधा का लाभ ले सकेंगे। हालांकि, कोरोना संक्रमण को देखते हुए ऐसे बेडरोल दिए जाएंगे, जिनका एक बार ही उपयोग हो सकेगा। इस माह के अंत तक काउंटर शुरू हो जाएगा।

बता दें कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए रेलवे ने ट्रेनों में यात्रियों को बेडरोल की सुविधा बंद कर दी है। संक्रमण पूरी तरह खत्म नहीं होने तक पुन: ये सुविधा शुरू नहीं होगी। अक्टूबर माह से ठंड शुरू हो जाती है। ऐसे में चादर, कंबल के बिना सफर संभव नहीं है।

लोग यदि घर से भी इन सामग्रियों को साथ लेकर सफर करें तो भी उन्हें कोरोना संक्रमण का खतरा रहता है। देश के कुछ स्टेशनों पर यात्रियों को ये सुविधा मिलने भी लगी है। भोपाल रेल मंडल में भोपाल स्टेशन से इसकी शुरुआत होगी। इसके बाद इटारसी, बीना, संत हिरदाराम नगर, हरदा, होशंगाबाद आदि स्टेशन पर सुविधा शुरू की जाएगी।

एक बेडरोल सेट की कीमत 150 से 300 रुपये तक होगी। बेडरोल इस्तेमाल के यात्रा समाप्त करने वाले स्टेशन पर यात्रियों को इसे डस्टबिन में डालना होगा।

यात्रियों पर आएगा अतिरिक्त भार

मंडल रेल उपयोगकर्ता सलाहकार समिति सदस्य निरंजन वाधवानी ने कहा कि कोरोना संक्रमण से पूर्व ट्रेन के वातानुकूलित (एसी) कोच में बेडरोल भी दिया जाता था। इसके लिए किराये के अतिरिक्त यात्रियों से कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाता था। बेडरोल सुविधा बंद की तब भी किराये में कभी नहीं की। अब यात्रियों बेडरोल खरीदेंगे तो इसका भार भी उन्हीं पर आएगा।

वाधवानी बताते हैं कि वे इस विषय को लेकर रेलवे बोर्ड को पत्र लिखेंगे। रेलवे ने कोरोना संक्रमण देखते हुए ट्रेनों के वातानुकूलित कोच से पर्दे हटा दिए थे। इन्हें आगे भी नहीं लगाया जाएगा।

इनका कहना है

भोपाल स्टेशन पर जल्द ही यात्रियों को काउंटर से बेडरोल दिए जाएंगे। इसके लिए उन्हें मामूली शुल्क देना होगा।

विजय प्रकाश, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक
Powered by Blogger.