साइबर क्राइम से सावधान : दिवाली ऑफर्स के लालच में आकर भूल कर भी ऐसी लिंको में न करें क्लिक : सेकंडो में खली हो जाएगा आपका बैंक अकाउंट


भोपाल। दिवाली का त्यौहार आने वाला है। इस समय सभी लोग जमकर शॉपिंग करते हैं। आजकल ऑनलाइन शापिंग का चलन बढ़ गया है वहीं लोग कोरोना से बचने के लिए भी ऑनलाइन शापिंग ज्यादा कर रहे हैं। आपको जानकारी के लिए बता दें कि इस त्यौहारी सीजन में पुलिस ने मध्य प्रदेश की जनता को अलर्ट किया है। सभी को सायबर ठगों से सावधान रहने की अपील की है। ये ठग त्यौहार के सीजन में तरह तरह के लुभावने ऑफर का लालच देकर ठग सकते हैं।

बीते कई दिनों से साइबर क्राइम की घटनाएं सामने आ रही हैं, जिनमें लोगों के खातों से लाखों रुपये उड़ा लिए जाते हैं। रुपए उड़ाने के लिए इनके पास कई तरीके की टैक्नीक होती है, जिसको ये अपनाते हैं। ये ऑनलाइन ठग फोन पर किसी एमएमएस पर लिंक भेजकर या फिर बैंकों के नाम से फर्जी बोनस संदेश और सिबिल रिकॉर्ड अपडेट होने का एसएमएस उपभोक्ता को भेजते हैं और फिर उनके खाते में जमा रकम को उड़ा लेते हैं।

इन तरीकों से उड़ रहे हैं पैसे

जालसाल आपको फोन करके किसी भी एप को डाउनलोड करने के लिए कह सकते हैं। अगर आप ऐसा कर लेते है तो आपके मोबाइल, कम्प्यूटर व लैपटॉप की स्क्रीन सामने वाले व्यक्ति के मोबाइल पर भी दिखने लगती है। इससे वह आपके बैंक खाते व क्रेडिट व डेबिट कार्ड की जानकारी ले लेता है और आपके खाते से पैसे आसानी से उड़ाये जा सकते हैं।

फोन पर च्ग्च् के माध्यम से किसी भी वेबसाइट की लिंक भेजी जी सकती है। आप लिंक को क्लिक करते है उसमें एग्री का ऑप्शन आता है। एग्री करते ही ठग आपके बैंक खाते से रुपए गायब हो जाते हैं।

कई बार ऐसा भी होता है कि आपसे वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी ) पूछा जाता है और आप बता देते हैं जिससे आपके खाते से रुपए गायब हो जाते हैं।

ध्यान रखें ये बातें

फोन पर किसी को अपनी बैंक डिटेल न दें।

एटीएम से पैसा निकालते वक्त भी गार्ड से अगर मदद लें तो उसे भी एटीएम का पासवर्ड न बताएं।

दूसरों के या अनजान कंप्यूटर से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन न करें।

गैर विश्वसनीय साइटों पर अपनी निजी जानकारी न डालें। साथ ही साथ इन वेबसाइटों या फिर फोन पर आए किसी भी लुभावने मैसेज पर दिए गए लिंक को क्लिक न करें। इससे आपका फोन भी हैक हो सकता है।

सर्च इंजनों पर भी किसी भी कंपनी का कस्टमर केयर नंबर ना तलाशें, कंपनी की अधिकृत वेबसाइट पर जाकर नंबर लें। 

फोन पर किसी भी व्यक्ति के कहने पर एप्लीकेशन डाउनलोड ना करें, ओटीपी शेयर ना करें और ना ही किसी लिंक को खोलें।
Powered by Blogger.