MP सरकार की पहल : पहली बार साइबर सुरक्षा और जागरूकता के लिए कोर्स शुरू : ये होगी रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख

मध्य प्रदेश सरकार पहली बार छात्र और छात्राओं के लिए ऑनलाइन साइबर क्राइम से जुड़ा कोर्स कराने जा रही है। इसमें साइबर क्राइम से सुरक्षा और साइबर सुरक्षा जागरूकता संबंधी पढ़ाई ऑनलाइन कराई जाएगी। इसके लिए छात्र को रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है। रजिस्ट्रेशन कराने वाले छात्रों का टेस्ट लिया जाएगा, जिसमें कुल 30 प्रश्न होंगे।

उन्हें 90 अंकों में से पास होने के लिए 40ऽ अंक लाना जरूरी होगा। पास होने वाले बच्चों को एक सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। रजिस्ट्रेशन कराने वाले छात्र-छात्राओं की 31 दिसंबर तक क्लास ऑनलाइन चलेगी। स्कूल शिक्षा विभाग और एमपीकॉन लिमिटेड  द्वारा आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ शनिवार दोपहर स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार करेंगे।

बच्चों को यह पढ़ाया जाएगा

साइबर स्पेस में होने वाले अपराध एवं उनसे बचाव की जानकारी

साइबर क्राइम एवं प्रकार

साइबर कानून एवं सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम

साइबर शिष्टाचार, कंप्यूटर और मोबाइल का सुरक्षित उपयोग

इंटरनेट एवं ई-कॉमर्स सेवाओं का सुरक्षित उपयोग

साइबर अटैक एवं उनके बचाव के तरीके

ऑनलाइन शॉपिंग के लिए सुरक्षा उपाय

सोशल मीडिया का सुरक्षित उपयोग

बच्चों के विरुद्ध होने वाले साइबर क्राइम

ऑनलाइन यौन शोषण के अपराध की जानकारी और रोकथाम

ऐसे ले सकते हैं हिस्सा

पंजीयन या रजिस्ट्रेशन : छात्र mpcon की वेबसाइट mpced.mpconsutancy.org साइबर सिक्योरिटी अवेयरनेस टेस्ट पर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं। भाग लेने के लिए कोई भी शुल्क नहीं है। छात्रों को 31 दिसंबर तक रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा।

परीक्षा का तरीका : ऑनलाइन परीक्षा घर या स्कूल के कंप्यूटर या स्मार्टफोन के माध्यम से दी जा सकती है।

पाठ्य सामग्री : पढ़ाई के लिए पाठ्य सामग्री निशुल्क रहेगी। यह वेबसाइट पर छात्र के एकाउंट से डाउनलोड की जा सकेगी।

परीक्षा का विवरण : कुल 30 प्रश्न रहेंगे। 30 मिनट का समय दिया जाएगा। इसमें 90 अंक का टोटल प्रश्नपत्र होगा। इसमें से 40ऽ अंक लाना अनिवार्य है।

प्रमाण पत्र : पास होने वाले छात्र को एमपीकॉन लिमिटेड द्वारा ही प्रमाण पत्र दिया जाएगा। इसे एमपीकॉन की वेबसाइट से डाउनलोड किया जा सके।

Powered by Blogger.