REWA : संकट से जूझ रही सरकार : खनिज व शराब के अवैध परिवहन पर करें सख्त कार्यवाही : कमिश्नर


रीवा. आर्थिक संकट से जूझ रही सरकार का खजाना भरने को लेकर फील्ड में बकाया राजस्व की वसूली और वित्तीय वर्ष में निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए कमिश्नर राजेश कुमार जैन ने खनिज, परिवहन, पंजीयक और आबकारी विभाग के अफसरों के साथ मंथन किया। उन्होंने समीक्षा के दौरान अधिक से अधिक राजस्व जुटाने पर फोकस किया। कमिश्नर ने कहा कि खनिज व शराब के अवैध परिवहन पर कार्रवाई करें। पंजीयन विभाग जमीनों के लीज नवीनीकरण करें। कमिश्नर कार्यालय में आयोजित बैठक में सभी की समीक्षा की और कहा कि शासन के द्वारा राजस्व के निर्धारित लक्ष्यों की शत-प्रतिशत पूरा करने और बकायादारों से लंबित राशि की वसूली का अभियान चलाएं। 

पंजीयन विभाग राजस्व जुटाने में फिसड्डी 
कमिश्नर ने कहा कि पंजीयन विभाग के लिए इस वर्ष रीवा जिले में 129 करोड़, सतना में 144 करोड़, सीधी में 31 करोड़ तथा सिंगरौली में 52 करोड़ रुपए का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अब तक रीवा में 55. 88 करोड़, सतना में 58.33 करोड़, सीधी में 16.73 करोड़ तथा सिंगरौली में 28.39 करोड़ रुपए की राजस्व प्राप्ति हुई है। सीधी के जिला पंजीयक निर्धारित राजस्व प्राप्ति पर विशेष ध्यान दें। बैठक में पंजीयन लीज नवीनीकरण तथा दर्ज प्रकरणों के संबंध में चर्चा की गई। बैठक में जिला पंजीयक रीवा उमाशंकर वाजपेयी, सतना संध्या सिंह, सीधी तथा सिंगरौली अभिषेक सिंह एवं उप संचालक सतीश निगम उपस्थित रहे। 

खनिज मद से 828 करोड़ रुपए मंजूर 
संभागीय उप संचालक एसएम पाण्डेय ने बताया कि रीवा संभाग में वर्तमान वित्तीय वर्ष में 2410 करोड़ के खनिज राजस्व का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। अब तक 1211 करोड़ का राजस्व प्राप्त किया जा चुका है। खनिज मद से संभाग में 828 करोड़ रुपए के कार्य मंजूर किए गए हैं। संभाग में लेटराइट, लाइम स्टोन तथा हीरा मिलने की प्रबल संभावना है। इसके लिए सर्वे का कार्य किया जा रहा है। 

शराब के अवैध परिवहन तथा बिक्री पर कड़ी कार्यवाही करें 
कमिश्नर ने आबकारी विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि शराब के अवैध परिवहन तथा बिक्री पर कड़ी कार्यवाही करें। संभाग के सभी जिलों में शराब की दुकानों से अक्टूबर माह तक निर्धारित राजस्व प्राप्ति के लक्ष्य के विरूद्ध 98.34 प्रतिशत राजस्व प्राप्त हुआ है। निर्धारित लाइसेंस फीस की हर माह वसूली करें। पूरे संभाग में देशी शराब के अवैध बिक्री तथा परिवहन के 1727 एवं विदेशी शराब के 73 प्रकरण दर्ज किए गए हैं। इन प्रकरणों में कड़ी दण्डात्मक कार्यवाही करें।
Powered by Blogger.