REWA : 30 नवंबर के पहले शहर के होटल, अस्पताल, स्कूल, सरकारी कार्यालयों, मोहल्लों एवं मार्केट सहित अन्य संस्थानों के स्वच्छता का होगा मूल्यांकन


रीवा। स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 से पहले अब शहर की आंतरिक स्वच्छता का मूल्यांकन किया जाएगा। इसके लिए नगर निगम छह कैटेगरी पर स्पर्धा आयोजित होगी जिसमें तय किया जाएगा कि शहर के भीतर के सबसे स्वच्छ संस्थान कौन से हैं। केन्द्र सरकार की ओर से जारी की गई गाइडलाइन के तहत अब नगर निगम ने शहर के प्रमुख संस्थानों से स्वच्छता की आंतरिक रैंकिंग में शामिल होने की अपील की है। हर क्षेत्र के दर्जनों की संख्या में संस्थानों का चयन भी स्पर्धा के लिए किया गया है। साथ ही सभी को इसमें शामिल होने के लिए विकल्प दिए गए हैं, जिसके तहत नगर निगम कार्यालय से कोई भी निर्धारित प्रोफार्मा प्राप्त कर अपने यहां स्वच्छता के दावे कर सकता है।

इसका परीक्षण नगर निगम की ओर से भेजी जाने वाली टीम करेगी। पूर्व के स्वच्छता सर्वेक्षण में भी इस तरह के आंतरिक मूल्यांकन होते रहे हैं लेकिन इस बार कई मापदंडों में बदलाव किए गए हैं। इस बार स्वच्छता के साथ ही परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था के साथ ही कर्मचारियों के मास्क लगाए जाने और सेनेटाइजर के उपयोग की व्यवस्था भी शामिल की जाएगी।

इस तरह के आयोजन से शहर में स्वच्छता सर्वेक्षण शुरू होने से पहले जागरुकता का एक माहौल निर्मित कराने का प्रयास किया जा रहा है। इससे शहर के हर हिस्से में स्वच्छता सर्वेक्षण से जुड़ी चर्चाएं प्रारंभ होंगी। संस्थानों द्वारा स्वच्छता के दावों का सत्यापन नगर निगम की टीमें अपने प्रोफार्मा में करेंगी, उसके आधार पर तय किया जाएगा कि रीवा शहर का सबसे स्वच्छ संस्थान कौन सा है। 

इन कैटेगरी में होगा स्वच्छता का मूल्यांकन 
स्वच्छता के आंतरिक मूल्यांकन के तहत जिन छह कैटेगरी पर सर्वे शुरू किया जा रहा है उसमें प्रमुख रूप से शहर के होटल, अस्पताल, स्कूल, सरकारी कार्यालयों, मोहल्लों एवं मार्केट एसोसिएशन की व्यवस्था का मूल्यांकन किया जाएगा। 30 नवंबर के पहले यह इस रैंकिंग के लिए मूल्यांकन किया जाएगा। इसके परिणामों को स्वच्छता सर्वेक्षण पोर्टल, संबंधित सोशल मीडिया मंच, स्वच्छ मंच, निकाय के सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर जानकारी अपलोड करनी होगी। हर कैटेगरी में प्रथम तीन स्वच्छ संस्थानों का चयन किया जाएगा। 
 
ऐसे मिलेंगे अंक
- सभी छह कैटेगरी के सर्वे पर - 70 अंक
- पांच कैटेगरी के मूल्यांकन पर-60 अंक
- चार कैटेगरी के मूल्यांकन पर- 50 अंक
- तीन कैटेगरी के मूल्यांकन पर- 40 अंक
- दो कैटेगरी के मूल्यांकन पर- 30 अंक
- एक कैटेगरी के मूल्यांकन पर - 20 अंक 
- आंतरिक मूल्यांकन नहीं करने पर शून्य अंक मिलेंगे

शौचालयों की स्वच्छता के लिए निगम ने चलाया टी-20 अभियान
रीवा। शहर में स्वच्छता सर्वेक्षण से पहले शौचालयों को बेहतर बनाने के लिए नगर निगम टायलेट-20 नाम का अभियान शुरू किया है। जिसके तहत शहर के सभी सार्वजनिक स्थलों के शौंचालयों की सफाई कराई जा रही है, साथ ही निगम की टीमें वहां पर पहुंचकर उसका निरीक्षण भी कर रही हैं। विश्व शौचालय दिवस के आयोजन के बाद अब करीब दो सप्ताह तक यह अभियान शहर में चलाया जाएगा। जिसके तहत शहर के सभी सामुदायिक शौचालयों की सफाई की जा रही है। इसके साथ ही शहर के भीतर हास्पिटल, नर्सिंगहोम, होटल, रेस्टोरेंट, स्कूल, सरकारी कार्यालय, अन्य बड़े कार्पोरेट कार्यालयों के शौंचालयों की सफाई कराई जा रही है। नगर निगम की ओर से सभी स्थानों पर यह सूचित किया गया है कि शौचालयों में जो कमियां हैं उन्हें जल्द दुरुस्थ कराएं और बेहतर सफाई रखें। इसके साथ ही मोहल्लों में टीमें भेजकर लोगों से घरेलू शौचालयों को साफ रखने की अपील की जा रही है।
Powered by Blogger.